उत्तराखंड में महिला दिवस होगा खास,पारंपरिक परिधान में रैंप वॉक करेंगी महिलाएं,पढ़ें रिपोर्ट।

0
716
उत्तराखंड में महिला दिवस होगा खास,पारंपरिक परिधान में रैंप वॉक करेंगी महिलाएं,पढ़ें रिपोर्ट।

राजधानी देहरादून में 8 मार्च को अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस के मौके पर पुलिस लाइन मैदान में कार्यक्रम आयोजित किया जाएगा. महिला एवं बाल विकास की ओर से विशेष कार्यक्रम का आयोजन किया जा रहा है. उत्तराखंड के पारंपरिक परिधानों (गढ़वाली/ कुमाऊंनी) में रैंप वॉक करती नजर आएंगी.

यह भी पढे़ं: काजल कु टिक्कू वीडियो गीत रिलीज होते ही वायरल,आकाश, नताशा की जोड़ी स्क्रीन पर हिट।

विश्वभर में 8 मार्च को अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस मनाया जाएगा. इस बार राजधानी देहरादून में महिलाएं उत्तराखंडी पारंपरिक परिधान(गढ़वाली,कुमाऊंनी) परिधानों में रैंप वॉक करती नजर आएंगी. राज्य के महिला एवं बाल विकास विभाग की ओर से विशेष कार्यक्रम का आयोजन कराया जाएगा. राजधानी के पुलिस लाइन स्थित मैदान में होगा.बता दें कार्यक्रम को “उत्तराखंडी परिधाण म्यर पछांण” नाम दिया गया है.

यह भी पढे़ं: गढ़वाली डीजे सॉन्ग बुडड़ी की उत्तरकाशी में शूटिंग जारी,उत्तराखंड के कई सितारे आए नजर,पढ़ें रिपोर्ट।

जानकारी के मुताबिक राज्य मंत्री रेखा आर्य ने बताया कि उत्तराखंड के पारंपरिक परिधानों को नई पहचान दिलाने के लिए इस तरह का रैंप वॉक कार्यक्रम पहली बार अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर आयोजित किया जा रहा है. आधुनिकता के दौर में प्रदेश के शहरी क्षेत्रों में रहने वाले लोग अपने पारंपरिक परिधानों को भूलने लगे हैं. ऐसे में इस रैंप वॉक के माध्यम से लोगों को उत्तराखंड के पारंपरिक परिधानों और आभूषणों के बारे में जागरूक किया जा सके.

यह भी पढे़ं: प्रियंका महर का नया गीत नींद चोरी बना दर्शकों की पहली पसंद,रिलीज होते ही यूट्यूब पर वायरल।

उत्तराखंड का पहनावा यहां की परंपराओं,लोक संस्कृति, रिति-रिवाज आदि को प्रतिबिंबित करता है. पहनावा किसी भी पहचान का पहला साक्ष्य होता है. औऱ ऐसा ही कुछ महिला दिवस के अवसर पर देखने को मिलेगा. बता दें कि अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस के मौके पर राजधानी देहरादून में महिलाएं उत्तराखंड के पारंपरिक (गढ़वाली, कुमाऊंनी) परिधानों में रैंप वॉक करती नजर आएंगी. महिला एवं बाल विकास विभाग की ओर से विशेष कार्यक्रम का आयोजन किया जा रहा है.

महिला सशक्तिकरण एवं बाल विकास राज्यमंत्री रेखा आर्य ने कहा कि ‘उत्तराखंडी परिधाण म्यर पछांण’ एक राज्यस्तरीय प्रतियोगिता होगी. इसमें उम्र के आधार पर तीन अलग-अलग श्रेणियों में महिलाएं उत्तराखंड के पारंपरिक परिधानों में रैंप वॉक करते देखी जाएंगी. वहीं, तीनों ही श्रेणियों में युवतियों और महिलाओं को प्रथम द्वितीय और तृतीय स्थान के आधार पर प्रतियोगी को सम्मानित किया जाएगा. साथ ही  ₹31,000, ₹21,000 और ₹11,000 की धनराशि से सम्मानित किया जाएगा.