देखिए गढ़वाली शार्ट फिल्म पतिव्रता सावित्री की लोकगाथा ! कथा सत्यवान और सावित्री के प्रेम की !

1
486

हमारा देश भारतवर्ष दुनिया को राह दिखाना का कार्य करता है,देश का इतिहास तो यही दर्शाता है,चाहे वो महाभारत युग हो या रामायण युग इस धरती पर कई महान व्यक्तिव्व ने जन्म लिया है और इसका मान अपने कर्मों से बढ़ाया है जो युगों- युगों तक याद किया जाता रहेगा। 

P.B. FILM’S PRODUCTION हॉउस ने अपने यूट्यूब चैनल के माध्यम से पतिव्रता नारी सावित्री की कहानी शार्ट फिल्म के माध्यम से दिखलाई है।क्या आप जानते हैं क्या थी पूरी स्टोरी थोड़ा हम बता देते हैं बाकी आप ये फिल्म देख कर खुद ही जान जाएंगे।

देखिए गढ़वाली शार्ट फिल्म पतिव्रता सावित्री की लोकगाथा ! कथा सत्यवान और सावित्री के प्रेम की !
Source: PB Films, Youtube

यह भी पढ़ेंउत्तराखंड : सनी दयाल का ओ बेबिये विडियो रिलीज़ होते ही वायरल हफ्ते भर में 4 लाख व्यूज पार !देखें आप भी

कहा जाता है कि नारी जब विवाह करके अपने ससुराल में आती है तो उसके ऊपर दो घरों के मान सम्मान का दायित्व होता है भारत की नारी शक्ति ने सदा ही समाज की कुरीतियों और कुप्रथाओं का दंश झेला है चाहे वो उस दौर की सती प्रथा हो या या सीता माता की अग्नि परीक्षा इतने कष्ट सहन करने के बाद भी उन्होंने अपना पति धर्म नहीं छोड़ा और दिखा दिया कि वो गंगा सामान पवित्र और निश्छल है,पर समाज उस युग में भी ऐसा ही था और शायद ऐसी ही मानसिकता पनपती रही अगर नारी शक्ति का सम्मान नहीं हुआ तो न जाने कितनी सीता अग्नि कुंड मे धकेली जाएंगी और देने पड़ेगी अग्नि परीक्षा।

यह भी पढ़ें : उत्तराखंड के सुपरस्टार सिंगर किशन महिपाल का यूट्यूब चैनल हैक, फैन्स से माँगा सहयोग।

ऐसे ही मद्र देश की राजकुमारी हुई सावित्री जो कि रूपवान गुणवान थी जब समय हो चला तो सावित्री विवाह योग्य हो गई तो निकल पड़ी वर की तलाश में,फिर भेंट होती है द्युमत्सेन के पुत्र सत्यवान से और सावित्री सत्यवान को अपना पति मान बैठी कित्नु नारद मुनि जानते थे कि वह तो अल्पायु है एक वर्ष के भीतर ही मर जाएगा लेकिन सावित्री अब सत्यवान को पति रूप में अपना चुकी थी।

यह भी पढ़ें:Narendra Singh Negi ने वीडियो शेयर कर फैंस को दी श्रावण मास की बधाइयाँ।

धन्य है ये भारतवर्ष जहाँ ऐसी नारियों ने जन्म लिया ,जिन्होंने पति धर्म से बड़ा कोई धर्म नहीं समझा और काल से भी अपने पति के प्राण माँग लाई और दिखला दिया जग को कि नारी में कितनी शक्ति होती है। काल के प्रतीक यमराज का साया जब किसी पर पड़ जाता है तो उस इंसान को मृत्यु लोक त्यागना ही पड़ता है क्योंकि शरीर नश्वर है एक न एक दिन मिट्टी से बना शरीर इसी धरा पर पंचतत्व में विलीन हो जाता है,लेकिन जब जब नारी शक्ति जाग्रत हुई है उसने इतिहास लिखा है ऐसी ही एक पतिव्रता नारी थी सावित्री।  जो कि अपने पति सत्यवान के प्राण यमलोक से लेकर आ गई जो कि असंभव था लेकिन ये संभव किया सावित्री के तप ने उसके पतिव्रता धर्म ने। धन्य हैं ऐसी नारी जिन्होंने काल को भी मात दे दी।

यह भी पढ़ें : उत्तराखण्ड : गीताराम कंसवाल का भैरो देवता जागर वीडियो रिलीज़ !देखें सबसे पहले!

उत्तराखण्ड के अभिनेता एवं pb films के निर्माता प्रदीप भंडारी कई वर्षों से उत्तराखण्ड संगीत जगत मे अपना योगदान दे रहे हैं और अपनी कलात्मक शैली से दर्शकों को नए नए तथ्यों से रबरु करवाते रहते हैं और अपनी लोकभाषा के प्रचार प्रसार को प्राथमिकता देते हैं।

यह भी पढ़ें :Priyanka Meher का डांस वीडियो सोशल मीडिया पर हुआ वायरल, दिखा हॉट अंदाज।

 

सत्यवान सावित्री के किरदार में उत्तराखंड की प्रसिद्ध अभिनेत्री संध्या डबराल हैं तथा साथी कलाकार त्रिलोक सिंह चौहान,अनिल गोदियाल ,विनोद बिष्ट नरेंद्र रावत हैं इस फिल्म में संगीत दिया है अमित वर्मा ने और गीत रोशन रावत के हैं,कैमरा के.के शर्मा का रहा है तथा संपादन का कार्य गौरव नागपाल ने सम्पन किया।

यह भी पढ़ें:गीत पुराने – धुन नई उत्तराखण्ड संगीत जगत में जारी है रिक्रिएशन ! फुर्की बांद गीत फिर से चर्चाओं में। देखें वीडियो।

वीडियो देखने में भले ही पुराना लगे लेकिन उसकी जीवता आज भी वैसी ही है,क्योंकि इतिहास तो बदला नहीं जा सकता।

आप भी देखिए अपनी लोकभाषा में पतिव्रता नारी सावित्री की गाथा :

Facebook Comments