विद्युत जामवाल कर रहे हैं शेर सिंह राणा की बायोपिक,फर्स्ट लुक आया सामने।

0
262
vidyut-jamwal-is-doing-sher-singh-ranas-biopic-first-look-is-out

बॉलीवुड के एक्शन हीरो विद्युत जामवाल जल्द ही शेर सिंह राणा की बायोपिक में नजर आने वाले हैं,ये वही शेर सिंह राणा हैं जिन्होंने एक समय पर बीहड़ की डाकू से सांसद बनी फूलन देवी की हत्या की थी और तिहाड़ जेल से फरार हो गए थे लेकिन शेर सिंह राणा का नाम तब फक्र से लिया जाने लगा जब इन्होने भारत के अंतिम सम्राट पृथ्वीराज चौहान की अस्थियाँ अफगानिस्तान से भारत लाए।

vidyut-jamwal-is-doing-sher-singh-ranas-biopic-first-look-is-out

पढ़ें यह खबर: नवरात्रि पर अंजलि रमोला नेगी का जय माँ ज्वाल्पा भजन रिलीज़,पढ़ें रिपोर्ट।

फ़िल्मी सी लगने वाली शेर सिंह राणा की कहानी एक सच्ची घटना है जिस पर अब फिल्म बनने जा रही है।शेर सिंह राणा अब के उत्तराखंड के रुड़की के रहने वाले थे जो उस समय उत्तरप्रदेश का हिस्सा था।फूलन देवी की हत्या के जुर्म में शेर सिंह राणा को तिहाड़ जेल भेज दिया गया लेकिन शेर सिंह राणा देश की सबसे सुरक्षित जेल तिहाड़ से फ़िल्मी अंदाज में फरार हो गए,शेर सिंह के साथी नकली पुलिसवाले बनकर,हाथों में हथकड़ी और कोर्ट का आर्डर लेकर तिहाड़ जेल पहुंचे और तिहाड़ के अधिकारी उन्हें असली समझकर शेर सिंह राणा को उनके साथ भेज देते हैं लेकिन जब सच्चाई का पता चला तो सब हैरान हो गए।

पढ़ें यह खबर: ये हैं उत्तराखंड के टॉप मोस्ट व्यूज बटोरने वाले सॉन्ग,जानिए कौन रहा टॉप पर।

जेल से फरार होने के बाद शेर सिंह राणा ने दो साल में ऐसा काम किया जिससे उनका नाम देश में बड़े गर्व से लिया जाने लगा,शेर सिंह राणा के जीवन का मकसद एक ही था कि उसे देश के लिए ऐसा काम करना है जिससे उसके नाम से फूलन देवी के हत्यारे का कलंक मिट जाए।शेर सिंह राणा ने फूलन देवी की हत्या इसलिए की क्योंकि फूलन देवी ने 22 राजपूतों की हत्या की थी।

पढ़ें यह खबर: RRR फिल्म ने कमाई के मामले में तोड़े कई रिकॉर्ड,हॉलीवुड की फ़िल्में भी फेल।

पंकज सिंह राणा उर्फ़ शेर सिंह राणा ने जेल से फरार होने के बाद दो सालों में ऐसा काम किया जो भारत सरकार न कर सकी,देश के महान सम्राट रहे पृथ्वीराज चौहान जिन्होंने मोहमद गजनी को 17 बार हराया ऐसे महान सम्राट का अफगानिस्तान की धरती पर हर दिन अपमान होता था,दरअसल मोहमाद गजनी की समाधी के नजदीक ही पृथ्वीराज की समाधी भी थी और वहां के लोग गजनी की समाधी के दर्शन करने से पहले पृथ्वीराज चौहान की समाधी का अपमान करते थे,जब ये बात शेर सिंह राणा को पता चली तो उन्होंने सर पर कफ़न बांध कर अफगान की धरती पर पृथ्वीराज चौहान की अस्थियों को वापस लाने का जिम्मा लिया सबूत के तौर पर उन्होंने इस घटना की विडिओग्राफी भी की और देश के महान सम्राट को मरणोपरान्त सम्मान वापस दिलाया।

पढ़ें यह खबर: इस नवरात्रि सुनिए ये मधुर गढ़वाली भजन,माँ करेंगी हर मनोकामना पूर्ण।

अब इनकी इसी कहानी पर फिल्म बन रही है फिल्म में शेर सिंह राणा का किरदार विद्युत जामवाल निभाएंगे,फिल्म को लेकर विद्युत काफी उत्साहित नजर आ रहे हैं और खुद को भाग्यशाली मान रहे हैं कि उन्हें इस किरदार को निभाने का मौका मिल रहा है,फिल्म का निर्माण एम.एस धोनी,टॉयलेट एक प्रेम कहानी के निर्देशक बना रहे हैं।फिल्म का फर्स्ट पोस्टर भी रिलीज़ हो गया है।

उत्तराखंड फिल्म एवं संगीत जगत की सभी ख़बरों को विस्तार से देखने के लिए हिलीवुड न्यूज़ को यूट्यूब पर सब्सक्राइब करें।