Breaking News

Uttarakhndi Festival : कुमाऊं का लोकप्रिय त्यौहार आठू -साठु पर्व

Uttarakhndi Festival

वैसे तो उत्तराखंड त्योहारों का गढ़ है | जहां पर हर पर्व को बड़े ही उल्लास के साथ मनाये जाते है | सिर्फ इतना ही नहीं बल्कि हर त्योहर को मनाने के पीछे कुछ न कुछ पौराणिक कहानियां छुपी होती हैं | एक ऐसा ही त्यौहार जिसके पीछे की कहानी बहुत सुंदर और आस्था से भरी हैं | कुमाऊं में ”आठू -साठु ” यानी गमारा पर्व मनाया जाता हैं | शिव -पार्वती की उपासना का यह पर्व खासतौर पर महिलायें करती हैं |

Uttarakhndi Festival

Dudhbhasha Garhwali Video : प्रीतम भरतवाण के नये गीत दूधभाषा का हुआ विमोचन

आठू -साठु पर्व भाद (अगस्त ) महीने की पहली पंचमी से शुरू होता हैं व पूरे हफ्ते भर चलता हैं | महिलाएं इस पर्व में शिव -पार्वती के जीवन पर आधारित लोक गीतों पर नाचती व गाती हैं | पिथौरागढ़ ( कुमाऊं ) में यह पर्व आठू -साठु व पश्चिम नेपाल में गौरा-महेश्वर के रूप में जाना जाता हैं | साथ ही इसमें शिव -पार्वती की जीवन लीला का प्रदर्शन भी किया जाता हैं |

पहाड़ से जुडी कहानी ”पहाड़ कालिंग 2” दिल को छू लेगी

कहा जाता की -जब पार्वती भगवान शिव से नाराज़ होकर मायके चली जाती हैं तो भगवान शिव माँ पार्वती को लेने धरती पे आते हैं |घर वापसी इसी मौके को यहाँ गौरा के विदाई के रूप में मनाया जाता हैं | स्थानीय लोग इसे प्रकृति से जुड़ा पर्व भी मानते हैं ,इसे आठू यानि गमारा पर्व भी कहा जाता हैं |

अब विदेशी भूमि पर भी धूम मचाएंगे अमित सागर, पढ़े ये ख़ास न्यूज़

इस पर्व में हरे पौधों (मक्के के पौधों ) से गौरा माई व महेश्वर को बनाया जाता हैं ,साथ ही पूजा में हाजरे के फूल व पौधे साथ ही धतूरे को भी शामिल किया जाता हैं | यह पर्व के शुरू होते ही पहले दिन 7 दाले प्रसाद के रूप में भिगोई जाती हैं ,जिन्हे पर्व के लास्ट दिन भून कर प्रसाद के रूप में खाया जाता हैं | इस पर्व को कुमाऊं में बड़ी धूम -धाम से मनाया जाता है |

उत्तराखंड में भारी बारिश का क़हर, बढ़ी लोगो की मुसीबतें

सीमा रावत की रिपोर्ट

Facebook Comments

About Hillywood Desk

Check Also

इंदर आर्य ने पहली बार गढ़वाली गीत काजल कु टिक्कू के जरिए बिखेरा मधुर आवाज का जादू।

इंदर आर्य ने पहली बार गढ़वाली गीत काजल कु टिक्कू के जरिए बिखेरा मधुर आवाज का जादू।

उत्तराखंड संगीत जगत में आए दिन नए गीतों की धूम मच रही है. हाल ही …

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: