आज लोक कलाकारों का पूरे प्रदेश में वर्चुअल धरना, उफ्तारा ने दिया समर्थन

1
169

उत्तराखंड के कलाकारों ने आज सरकार द्वारा 1000 रुपये की आर्थिक मदद की पेशकश किये जाने पर प्रदेश ब्यापी वर्चुअल धरना (Uttarakhand folk artist Virtual Rally) देने का ऐलान किया है.

Uttarakhand folk artist Virtual Rally
file photo

कोरोनावायरस की वजह से चल रहे लॉकडाउन के कारण जहाँ हजारों करोड़ लोग बेरोजगार हो गए हैं. वन्ही फिल्म, कला और संस्कृति से जुड़े कलाकारों की स्थिति भी बहुत खराब है. उत्तराखंड के लोक कलाकार लगातार तीन महीने से घरों में कैद हैं और गंभीर आर्थिक संकट का सामना कर रहे हैं लोक कलाकार संस्कृति विभाग तथा सूचना विभाग में पंजीकृत होते हैं साथ ही विभाग द्वारा संचालित कार्यक्रमों में प्रतिभाग करते हैं तब जाकर उन्हें रोजगार उपलब्ध किया जाता है.

यह भी पढ़ें : घन्ना नन्द इस्तीफ़ा दें लाइव शो में उफ्तारा अध्यक्ष प्रदीप भंडारी का बयान, कलाकारों में रोष

लोक कलाकारों के साथ साथ फिल्म विधा, म्यूजिक विडियो, क्रू मेम्बर आदि सभी भी इस समय आर्थिक समस्या का सामना कर रहे हैं. इस स्थिति को देखते हुए सरकार ने कलाकारों को बार में सिर्फ १ हज़ार रूपया आर्थिक सहायता देने का ऐलान किया है. इस पर कलाकारों ने घोर आक्रोश जताया है और इसे नाकाफी तथा कलाकारों का अपमान बताया है. कलाकार सोशल मीडिया के माध्यम से आक्रोश जता रहे हैं. इस बीच प्रदेश भर के कलाकारों ने आज दिनांक २५ जून 2020 को प्रदेश भर में वर्चुअल रैली का आयोजन किया है जिसमे समस्त उत्तराखंड के कलाकार प्रतिभाग करेंगे साथ ही जिला मुख्यालयों से सरकार को ज्ञापन भी भेजा जाएगा.

यह भी पढ़ें : संस्कृति विभाग बना चिंता का विषय, कलाकारों का हो रहा शोषण

इस बीच उत्तराखंड फिल्म टेलीविज़न और रेडियो एसोसिएशन ने कलाकारों के सम्मान में इस धरने को समर्थन दिया है साथ ही जल्द इस निर्णय पर पुनर्विचार करने की अपील की है, अमर उजाला में आज छपी  खबर के अनुसार कुछ लोक कलाकारों का कहना है कि प्रत्येक कलाकार को २०हज़ार रुपये की आर्थिक मदद की जाए क्योकि आने वाले कई महीनों तक कोई ऎसी गतिविधि नहीं होने वाली जिससे कलाकार अपनी आर्थिकी चला सकें. इस बाबत हमने उत्तराखंड कला, संस्कृति और साहित्य के उपाध्यक्ष घन्ना नन्द से संपर्क किया तो उन्होंने बताया कि उनके हाथ में आर्थिक सहायता देने जैसी कोई पॉवर नही है. उन्होंने साथ ही कहा कि यह धनराशि मुख्मंत्री राहत कोष से कलाकारों को प्रदान की जा रही है तथा उनके विभाग के पास अभी कोई बजट नही है.

यह भी पढ़ें : लोक कलाकारों के मानदेय को लेकर सरकार में हल चल शुरू – दो गुना करने की हो रही सिफारिश

(Uttarakhand folk artist Virtual Rally) अब देखना यह होगा कि उत्तराखंड सरकार इस धरने प्रदर्शन से कोई ठोस निर्णय कलाकारों के हितों में लेती है या नहीं.

Facebook Comments