धान की रोपाई में पहाड़ों में गूंज रहा कमला देवी का ये गीत

0
80

वैसे तो पहाड़ पर मानसून का सीजन आपदाओं के लिए जाना जाता है। लेकिन यही मानसून का मौसम किसानों के लिए वरदान भी माना जाता है। जी हां मानसून आते ही उपजाऊ खेतों में आजकल रोपाई की अलग ही रौनक है। 

यह भी पढ़ें: रोहित भंडारी का नया गीत हुआ रिलीज, म्यूजिक ने जीता दिल

उत्तराखंड के पहाड़ी गांवों में आज भी सामूहिक रूप से धान की रोपाई की समृद्धशाली परंपरा कायम है. ग्रामीण महिलाएं बारी-बारी से एक-दूसरे के खेतों में रोपाई करती हैं। इससे जहां काम का बोझ कम हो जाता है, वहीं आपसी सद्भाव भी बना रहता है।  वहीं इस बेहतरीन एकता का गायन लोकगायिका व्  “सोन्चड़ी राजूला मालूशाही” फेम Kamla Devi और  Govind Giri Goswami ने अपनी आवाज में शानदार गीत Chanara Boji गा कर किया।

यह भी पढ़ें: नाबालिग का किया अपहरण, फिर ट्रक में किया सामूहिक दुष्कर्म

दरअसल, Sarang Films के यूट्यूब चैनल से रोपाई गीत रिलीज हुआ, जिसमें Rahul Bhatt और Neeru Bora ने देवर भाभी का किरदार अदा कर उत्तराखंड के पहाड़ों में हो रही धान की रोपाई का वरनन किया।  वही Nitesh Bisht के दिल छू लेने वाले संगीत में  Subhash Pandey की रिधम भी सुनंने को मिली , जो की तारीफी काबिल है। बता दें, पहाड़ की अपनी लोक संस्कृति, रीति रिवाजों को लेकर देश दुनिया में अपनी अलग पहचान है। यहां की प्राचीन संस्कृति जनमानस में रची बसी है।

यह भी पढ़ें: सोशल मीडिया पर बढ़ी इंदर आर्य के इस गीत की डिमांड, उनके आगे सब हुए फेल

वहीं लोकगायिका कमला देवी ने “सोन्चड़ी राजूला मालूशाही” गाने के बाद यह पहला कुमाउनी गीत गाया। जिसको  Compose : Arjun Dev द्वारा , Camera  Bablu Negi व् एडिट Surendra Singh Bisht, डायरेक्ट  Manoj Rawat किया गया है।  टीम के सभी लोगों ने बेहद ही शानदार ढंग से गीत ” Chanara Boji “को दर्शकों के सामंने प्प्रस्तुत किया है।