बच्चों के दिमाग पर बुरा असर डालती है यह बातें, गलती से भी न कहें……..

0
33
बच्चों के दिमाग पर बुरा असर डालती है यह बातें, गलती से भी न कहें........

बच्चों को बड़ा करते हुए माता-पिता भी जीवन की किताब से रोजाना एक नया अध्याय सीख रहे होते हैं। ऐसे में लाजमी है अपने बच्चों के लिए हमेशा अच्छा सोचने वाले माता-पिता से भी उनकी परवरिश करते समय कुछ भूल हो जाती है जिनका बुरा असर बच्चों पर देखने को मिलता है l

यह भी पढ़े  : IND vs ENG T20 World Cup 2022 में भारत के हाथ लगी करारी हार, करोड़ों फैंस का टूटा दिल

आपको बता दें की ऐसा नहीं है बच्चों की परवरिश करने वाले सभी माता पिता एकदम परफेक्ट होते हैं। उनसे भी कई गलतियां हो जाती है क्यूंकि वह भी जीवन को अच्छे से बच्चों के साथ होने के बाद ही समझ पाते है l और जब उनसे भी गलतियां हो जाती है तो इसका मतलब यह कतय ही नहीं है की वो अपने बच्चों से प्यार नहीं करते या उनका भला नहीं सोचते। ऐसे में थोड़ी सी समझदारी और सतकर्ता को अपनाकर पैरेंट्स कुछ गलतियां करने से बच सकते हैं। ताकि बच्चों पर बुरा असर न पड़े l

यह भी पढ़े : ‘Baap’ का फर्स्ट लुक आया सामने, बॉलीवुड के कई सुपरस्टार साथ आए नजर

1- डांटने की जगह समझाएं-

अगर आपका बच्चा अपनी क्लास में अच्छा परमॉर्मेंस नहीं कर पा रहा है तो आप उसके पीछे छुपे कारण को जांनने की कोशिश करें ना कि उसको मारें या डाटें  l ऐसा करने से आपके बच्‍चे का मनोबल कम हो जाएगा और उसका आत्‍मविश्‍वास कम होने के साथ उसके दिमाग में आपका और पढ़ाई का डर बैठ जाएगा जो की आपके बच्चे के लिए हानिकारक साबित हो सकता है l

2 – पापा की धमकी न दें-

आमतौर पर देखने को मिलता है कि बच्चे अपनी मां के ज्यादा करीब होते हैं और पिता से कुछ भी शेयर करने में थोड़ा डर महसूस करते हैं। इसके पीछे हो सकता है कि बच्चे की हर छोटी गलती पर उसे बार-बार पापा के नाम की धमकी देकर काबू में रखने कोशिश की जाती है । ऐसा करने से बच्चों के मन में पिता के लिए सम्मान की जगह खौफ बैठ सकता है जो बच्चे और पिता के रिश्ते के लिए ठीक नहीं रहता है l

यह भी पढ़े  : राजीव सेन का दावा, चारु असोपा अभी भी करती है उनसे मोहब्बत 

3 – बच्चों को ताना न देना-
माता-पिता कई बार दूसरे बच्चों से अपने बच्चों की तुलना करते समय उन्हें ताने देना शुरू कर देते है और ऐसे करने से कई बार बच्चे गुस्सैल और चिढ़चिढ़े हो जाते हैं। अपनी हर बात मनवाने के लिए वो जिद्द करने लगते हैं। जो माता-पिता के लिए ही हानिकारक साबित हो जाता है l

4 – बच्चों की डाइट-
कुछ माता पिता  बच्चे की सेहत को लेकर भी बात का बतंगड़ बनाने लगते है, जिससे बच्चे के मन में हीन भावना और खुद को दूसरे बच्चों से कम आंकने की प्रवृति जन्म ले सकती है। जिससे बच्चा खुद को बुजदिल समझने लगता है l

हिलीवुड न्यूज़ की अन्य ख़बरें देखने के लिए Hillywood News यूट्यूब चैनल पर विजिट करें।