सोनिया आनंद रावत के “नथुली बुलाक “वीडियो सॉन्ग में दिखी संस्कृति की झलक !! आप भी देखें !!

0
1151
SONIYA ANAND RAWAT

उत्तराखण्ड राज्य अपनी लोकसंस्कृति एवं परम्पराओं के लिए विश्व विख्यात है, गीत संगीत के माध्यम से देवभूमि आज विश्व पटल पर अपना परचम लहरा रही है। जिसका श्रेय लोककला के संवाहकों को जाता है जिनकी समर्पण भावना एवं संगीत साधना से पारम्परिक ढोल दमाऊ की आवाज चारों और फैली है। ऐसा ही कुछ देखने को मिल रहा है ‘नथुली बुलाक’ विडियो (Nathuli Bulak Video) में।

यह भी पढ़ें – जरूर पढ़ें : रिलीज़ हुआ अमरदीप नेगी का गढ़-कुमाउँनी मैशअप !! निकिता बहुगुणा ने बिखेरे जलवे ! देखें वीडियो!

अपनी संस्कृति एवं परमपराओं को दर्शाता ऐसा ही वीडियो गीत ‘नथुली बुलाक ‘Rajji Films यूट्यूब चैनल पर रिलीज़ हुआ है,जिसमें सोनिया आनंद रावत Sonia anand rawat ने आवाज दी है ,संगीतकार हैं वीरेंद्र डंगवाल। गीत के बोल लिखे हैं प्रेम रंगीला ने।

 

यह भी पढ़ें – जरूर पढ़ें : दगड़ा लिजैदया वीडियो गीत के माध्यम से पुलवामा शहीदों को सच्ची श्रद्धांजलि !! नारी के संघर्षों की कहानी बयां करता वीडियो देखें !!

 

गीत के माध्यम से गीतकार ने उत्तराखण्ड के गाँवों और रीति रिवाजों का जिक्र किया है। हर ख़ुशी के अवसर पर गाँव की रौनक अलग ही होती है ,गाँव में चाहे किसी के घर भी कोई शुभ कार्य हो तो गाँव के सभी लोग मिलजुल कर काम करते हैं अगर आप भी कभी ऐसे ही किसी समारोह में शामिल हुए होंगे तो आपको इसका अनुभव जरूर होगा कि देखने से प्रतीत ही नहीं होता कि किसके घर पर शुभ कार्य है क्योंकि सभी तो काम में जुटे हैं।

 

यह भी पढ़ें – जरूर पढ़ें : हिलीवुड न्यूज़ का केदारघाटी के युवाओं के जज्बे को सलाम ! जरूरतमंदों की सहायता से बनायी उपहार समिति।

 

नथुली बुलाक गीत को सोनिया रावत ने बहुत ही शानदार आवाज में गाया है और उतना ही शानदार इसका वीडियो फिल्मांकन भी हुआ है। विडियो में गायिका सोनिया आनंद रावत के साथ सभी संगीतकार भी पारम्परिक वेशभूषा में अपनी लोककला एवं संस्कृति को बढ़ावा देते नजर आए। छायांकन एवं संपादन की भूमिका में निर्माता रज्जी गुसाई स्वयं रहे जबकि निर्देशन की भूमिका विजय भारती ने निभाई।

गीत में आपको पहाड़ी नारियों का सुन्दर आभूषण नथुली और बुलाक के दर्शन होंगे जो स्त्रियों के सौंदर्य की शोभा बढ़ाता है। साथ ही ढोल दमाऊ और मशकबाज,मांगल गीतों का जिक्र। प्रेम,परंपरा,एकता की झलक देखनी हो तो आप किसी गाँव की सैर पर जरूर निकलें।

Facebook Comments