शाहरुख खान की सास के फर्म पर लगा इतने करोड़ का जुर्माना, पढ़ें रिपोर्ट

0
515

shahruk khan

बॉलीवुड के बादशाह शाहरुख खान की सास के फर्म पर लगा इतने करोड़ का जुर्माना, पढ़ें रिपोर्ट

बॉलीवुड के सुपरस्टार शाहरुख खान की सास सविता छिब्बा की फर्म पर 3.09 करोड़ रुपये का जुर्माना लगाया गया है। थाल के अलीबाग में डेज़ावू फार्म हाउस प्राइवेट लिमिटेड नाम से एक कंपनी है, जिसके डायरेक्टर्स शाहरुख खान की सास सविता छिब्बा और उनकी साली नमिता छिब्बा है। इसमें फार्महाउस के साथ एक आलीशान बंगला भी बनाया हुआ है, जिसमें कई बॉलीवुड पार्टीज़ होस्ट की जाती रही हैं। शाहरुख खान ने 2018 में अपना 52वां जन्मदिन इसी फार्महाउस में मनाया था। यह फार्महाउस 1.3 हेक्टेयर में फैला है। इस फार्महाउस में एक लग्जरी बंगला, पूल और एक हेलीपैड है। इस फार्महाउस पर सेक्शन 63 के तहत बॉम्बे टेनेंसी एक्ट के उल्लंघन का आरोप लगा है।

अनीशा रांगड़ व सूर्यपाल श्रीवाण के इस गीत को मिल रहीं है दर्शकों की वाहवाही

मुबई मिरर के अनुसार, कलेक्टर विजय सूर्यवंशी ने डेज़ावू फर्म के बंगले को लेकर पहला नोटिस 29 जनवरी, 2018 को जारी किया था। नोटिस में बताया गया था कि प्लॉट खरीदने के बाद 13 मई, 2005 को रायगढ़ के एडिशनल कलेक्टर से फार्म पर कृषि संबधी काम के लिए अनुमति ली गई थी। हालांकि, उस जगह पर फार्महाउस को तोड़कर नया स्ट्रक्चर खड़ा किया गया, जो कि सेक्शन 63 के तहत बॉम्बे टेनेंसी एक्ट का उल्लंघन है। इसी के चलते डायरेक्टर्स से पूछा गया कि इस उल्लंघन के लिए उनके खिलाफ एक्शन क्यों नहीं गया और वे 14 फरवरी 2018 को सुनवाई के लिए क्यों नहीं प्रस्तुत हुए? इस मामले में कई सुनवाई हुई और 20 जनवरी, 2020 को एक ऑर्डर जारी किया गया, जिसमें उल्लंघन को लेकर सरकार को पेनाल्टी के तौर 3.09 करोड़ रुपये भरने के लिए कहा गया था।

Furr Ghindudi Aaja : में दिव्या नेगी के साथ दिखी सुंदर और विजय की हिट जोड़ी

जवाब देते हुए पूर्व कलेक्टर सूर्यवंशी ने कहा कि हां मैंने बंगले के मालिक को तीन करोड़ रुपये की पेनाल्टी के लिए ऑर्डर जारी किया था। सूर्यवंशी वर्तमान में कल्याण डोम्बीवली कॉर्पोरेशन के कमिश्नर हैं। पेनाल्टी जमा होने के बाद प्रॉपर्टी को लीगल माना जाएगा, लेकिन महाराष्ट्र लैंड रेवेन्यु और महाराष्ट्र रीजनल टाउन प्लानिंग एक्ट के अंतर्गत कार्रवाई जारी रहेगी।

Birthday Special:उत्तराखंड का यह सितारा बॉलीवुड में बना रहा है अपनी पहचान ,पढ़ें रिपोर्ट

हैरान करने वाली बात है कि पेनाल्टी मोरेश्वर अजगावंकर के नाम से जारी की गई थी, जो 30 दिसंबर, 2004 से 1 अक्टूबर, 2011 तक डेज़ावू के डायरेक्टर्स में से एक रहे हैं। वहीं, रमेश चंदर छिब्बा 30 दिसंबर, 2004 से 1 मार्च, 2016 तक फर्म के डायरेक्टर थे। फर्म के वर्तमान डायरेक्टर सविता छिब्बा हैं, जो कि 30 दिसंबर, 2004 से पद पर हैं। वहीं, नमिता छिब्बा 1 अक्टूबर 2011 से फर्म के डायरेक्टर पद पर कार्यरत हैं। नमिता छिब्बा के वकील ने कहा है कि उन्हें अभी तक इस ऑर्डर की ऑफिशियल कॉपी नहीं मिली है। वहीं, सूर्यवंशी का कहना है कि ऑर्डर अजगांवकर के नाम पर जारी किया गया था। इसके पेपर्स दिए गए पते पर भेजे गए थे। मुझे इसकी जानकारी नहीं है कि फाइन भरा गया है कि नहीं। हालांकि, इस मामले में फर्म के डायरेक्टर्स और शाहरुख खान की तरफ से अभी तक कोई बयान सामने नहीं आया है।

गढ़वाली गाने यहाँ देखें

Facebook Comments