रुद्रप्रयाग उथींड गांव इस बेटे ने किया परिवार का नाम रोशन

0
206
उत्तराखंड गौरवशाली सैन्य परंपरा वाला प्रदेश है। सेना में शामिल होने के लिए यहां के युवाओं में खूब जुनून दिखाई देता है। यहां के होनहार युवा आज भी सेना और सुरक्षा बलों का हिस्सा बनकर प्रदेश की गौरवशाली सैन्य परंपरा को आगे बढ़ा रहे हैं। इन जांबाज युवाओं में अब रुद्रप्रयाग के अविनाश सेमवाल भी शामिल हो गए हैं। 

यह भी पढ़ें: आर्मी अफसर बनी बागेश्वर जिले की पल्लवी, देशसेवा में देगी अपना अहम योगदान

दरअसल, एक अच्छी खबर रुद्रप्रयाग के ऊखीमठ से आई है। यहां रहने वाले अविनाश सेमवाल ने सेना में पायलट बन प्रदेश को गौरवान्वित किया है। वह नेवी में पायलट के तौर पर सेवाएं देंगे। अविनाश सेमवाल का परिवार उथींड गांव में रहता है। शुक्रवार को आईएएस इंडियन नेवल सर्विस, चेन्नई में पासिंग आउट परेड का आयोजन हुआ। इस मौके पर अविनाश के पिता भगवती प्रसाद सेमवाल, माता मीना देवी सहित परिवार के अन्य सदस्य भी वहां मौजूद रहे। माता-पिता ने अपने बेटे को बैच पहनाया। इस दौरान उनके चेहरे की खुशी देखते ही बन रही थी।

यह भी पढ़ें: देश के टॉप यू-ट्यूबर की लिस्ट में शामिल हुए उत्तराखंड के सौरव जोशी

अविनाश के पिता ने बताया कि आज का दिन उनके जीवन का सबसे बड़ा गौरव का दिन है। उनके बेटे ने देश सेवा की राह पर आगे बढ़कर परिवार का गौरव बढ़ाया है। अविनाश के बड़े भाई राजेश सेमवाल भी भारतीय सेना में लेफ्टिनेंट कर्नल के पद पर तैनात हैं। बता दें कि अविनाश वर्ष 2016 में एनडीए में चयनित हुए थे। वह हमेशा से सेना का हिस्सा बनना चाहते थे, और इस सपने को पूरा करने के लिए उन्होंने दिन-रात मेहनत की। उनके पायलट बनने से गांव में खुशी का माहौल है। केदारनाथ विधायक शैलारानी रावत व पूर्व विधायक आशा नौटियाल समेत अन्य जनप्रतिनिधियों ने अविनाश की उपलब्धि पर खुशी जताई, उन्हें शुभकामनाएं दीं।

उत्तराखंड फिल्म एवं संगीत जगत की सभी ख़बरों को विस्तार से देखने के लिए हिलीवुड न्यूज़ को यूट्यूब पर सब्सक्राइब करें।