रेशमा छोरी गीत बना युवाओं की पहली पसंद अब तक यूट्यूब पर मिले 1 मिलियन से अधिक व्यूज

1
520

RESHMA CHHORI GARHWALI SONG

उत्तराखंडी संगीत लगातार नई ऊंचाइयां छू रहा है उत्तराखंड के गीत अब बहुत ही कम समय में 1 मिलियन जैसा आंकड़ा पार कर रहे हैं आइये आपको ऐसे ही उत्तराखंडी गीत के बारे में बताते हैं जिसने हाल ही में ये मुकाम हासिल किया है। गीत का नाम है रेशमा छोरी जिसमे 3 युवाओं की तिकड़ी ने अपना जलवा दिखाया है और उत्तराखंड संगीत की दुनिया में अपने नाम का परचम लहराया है।

गीता राम कन्स्वाल का नया धमाल यहाँ देखें!

RESHMA CHHORI GARHWALI SONG

युवाओ का जोश देखते ही बनता है.रेशमा छोरी के रचनाकार हैं सुरेंद्र सत्यार्थी जो कि अन्य कई गढ़वाली गीत लिख चुके हैं इस गीत में उन्होंने टिहरी की हसींन वादियों का बखूबी वर्णन किया है गीत के बोल हैं रेशमा छोरी सुण्याल मैं औलू टिहरी गढ़वाल अर्थात रेशमा मैं तुझसे मिलने तेरे टिहरी गढ़वाल आ रहा हूँ और तू भी सज संवर के घोटि घनसाली आ जाना।

शहीद के घर हुआ जन्म ,बोली माँ लेगा अपने पिता की शहादत का बदला

गायक गीताराम कंसवाल ने इस गीत में अपनी आवाज से जादू बिखेरा है.गीताराम कंसवाल अपने गानों में हर बार कुछ नया लेकर आते हैं जो कि श्रोताओं को खूब पसंद आता है. इस गीत में भी आपको नयापन देखने को मिलेगा गीत में एक कड़ी है जो दर्शकों को अपनी तरफ आकर्षित करती है
“चिरबटिया मा बैठी जोला डाल्यों छैल मा सम्लोंण्या सेल्फी ल्योला अपड़ा मुबेल मा” मानो प्रतीत होता है सेल्फी के दिनों दिन बढ़ते क्रेज को देखकर ही ये कड़ी लिखी गयी हो.अब संगीत के बारे में आपको बता दें कि अपने संगीत से सभी को झुमा देने वाले अशीम मंगोली ने इसमें संगीत दिया है जोकि मंगोली साब के नाम से काफी चर्चित हैं

जोया ने की रणवीर की जमकर तारीफ़ गली बॉय हुई हिट – कमाई का आंकड़ा 80 के पार

अपने दर्शकों को जानकारी दे दें की रेशमा छोरी ऑडियो गीत के रूप में हार्दिक फिल्म्स के यूट्यूब चैनल पर रिलीज़ हुआ है और अब तक बहुत ही कम समय में 1 मिलियन से अधिक व्यूज पा चुका है.अगर अभी तक आप इस गीत को नहीं सुन पाए हैं तो आपकी सुविधा के लिए गाने का लिंक नीचे दिया गया है।

आनंद लीजिए इस गीत का और घूम आइये उत्तराखंड की हसींन वादियों में .

Facebook Comments