Breaking News
Garhwali Song : प्यार में कैसे कंगाल हुआ पहाड़ी आशिक, सुनिए इस जबरदस्त गीत को

Garhwali Song : प्यार में कैसे कंगाल हुआ पहाड़ी आशिक, सुनिए इस जबरदस्त गीत को

कल रिलीज हुआ गढ़वाली गीत लगुली जो कि लोगों को काफी पंसद आ रहा है। कमान सिंह तोपवाल द्वारा गाये गये इस गीत में संगीत रणजीत सिंह ने दिया है। आपको बता दें कि कमान सिंह तोपवाल जिन गानों को गाते हैं वो उत्तराखण्ड के साथ साथ न्यूजीलैंड में भी रिकार्ड होते हैं देखा जाये तो स्वदेशी और परदेशी दोनों स्टूडियोज का मिश्रण आप लगुली गीत में सुन सकते हैं।

25 साल बाद सनी देओल ने किया अपने साथ हुए धोखे का खुलासा, 16 साल तक बंद रही शाहरुख़ से बातचीत

आपको बता दें कि यह गीत कल यानि कि मंगलवार 18 जून को ‘बामणी फिल्मस’ यूट्यूब चैनल पर रिलीज हुआ है, इस गीत में वर्णन किया गया है कि एक आशिक पहाड़ी अंदाज में किस तरह से एक लड़की जिसका नाम लगुली है, के प्रेम में पड़ कर उस पर सारी कमाई लूटा देता है। जिस बात को वो आशिक बताना चाहता है उसे अपने स्वरों से कमान सिंह तोपवाल ने अच्छे से उजागर किया है।

चैत्वाली के बाद एक हिट की तलाश में अमित सागर, ‘सच्ची त्यारा सौं’ में नहीं चला स्वरों का जादू

इसके साथ साथ हम आपको यह भी बता देते हैं कि इस गीत को लिखा है नवीन सेमवाल ने जो कि हमेशा ही वास्तविक क्षणों को ही अपने शब्दों से उजागर करते हैं। चलो मान लेते हैं बामणी गीत उनके जीवन का वास्तविक क्षण था जैसे उन्होंने हिलीवुड न्यूज को एक साक्षात्कार के दौरान बताया ही था लेकिन अब जो लगुली गीत उन्होंने लिखा है क्या ये सब उनके साथ हो चुका है। खैर ये बात तो नवीन सेमवाल ही अच्छी तरह से जानते होंगें लेकिन कमान सिंह तोपवाल और नवीन सेमवाल दोनों ने लिखने और गाने में मजा तो निकाल ही दिया। बाकी दर्शक अगर ध्यान सुनें तो उनको भी कहीं न कहीं इस तरह के प्यार के क्षणों का एहसास जरूर होगा। अब देखना यह होगा कि यह लगुली गीत लोगों को आगे कितना पसंद आता है और इस गीत के प्रति लोगों की क्या प्रतिक्रिया रहती है यह देखने वाली बात होगी।

बिग बी (Big B) ने किया कुछ खास ट्वीट, बोले- ‘भेरी भेल डन’

अगर आपने यह गीत अभी तक नहीं सुना है तो नीचे दिये गये लिंक पर क्लिक कर के देख सकते हैं।

Facebook Comments

About Hillywood Desk

Check Also

इंदर आर्य ने पहली बार गढ़वाली गीत काजल कु टिक्कू के जरिए बिखेरा मधुर आवाज का जादू।

इंदर आर्य ने पहली बार गढ़वाली गीत काजल कु टिक्कू के जरिए बिखेरा मधुर आवाज का जादू।

उत्तराखंड संगीत जगत में आए दिन नए गीतों की धूम मच रही है. हाल ही …

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: