Breaking News
Preet Ku Rog : प्रीत कु रोग रिलीज़ होते ही वीडियो विवादों में

प्रीत कु रोग रिलीज़ होते ही वीडियो विवादों में, दर्शको की दिखी ख़राब प्रतिक्रिया

Preet Ku Rog

संगीत जगत में रोज नए नए गीत रिलीज होते है| कुछ गाने ऐसे है जो रिलीज होते ही सोशल मीडिया पर धूम मचाते है साथ ही कुछ गाने ऐसे भी है जिन्हे सोशल मीडिया पर काफी ट्रोल भी किया जाता है | ऐसा ही एक गीत 13 सितंबर को रुहान भारद्वाज के चैनल से रिलीज हुआ ”प्रीत को रोग ”|

पलायन पर आधारित ‘‘सौं यखि मेरु गौ’’ गढ़वाली गीत में दिखा अमित सागर व अनुराधा निराला के स्वरों का जादू, पढ़े ये रिपोर्ट

आपको बता दें की यह गीत आशीष चमोली के ऑफिसियल सांग के रूप में रिलीज हुआ था जिसे आशीष चमोली ने गाया है | देखते ही देखते इस गाने ने यूट्यूब पर कुछ ही घंटो में अच्छे व्यूज प्राप्त कर लिए थे | लेकिन अचानक कमेंट बॉक्स में एक कमेंट यह देखा गया जिसमे लिखा था ” भाई फिरसे कॉपी यार कभी तो अपने ओरिजनल लाओ यार ”
इस कमेंट को देखने के बाद कई दर्शको के मन में शंका बढ़ गयी और देखते ही देखते कई और दर्शको के भी कमैंट्स नजर आने लगे जैसे ”पुन: एक और चोरी कर ली तुम लोगों ने यह एक छत्तीसगढी गाना है । हद होती है”


Preet Ku Rog

राज्य समीक्षा का सच्चाई पर आधारित गीत ”आंछरी ” रिलीज

आपको बता दें की प्रीत को रोग गाना एक छत्तीसगढ़ी गाने मोर संसार मा गीत से लिया गया है | आशीष चमोली ने इस गीत को गढ़वाली में बेहतरीन तरिके से बदला है लेकिन कुछ दर्शको के अनुसार आशीष चमोली ने भी बाकी कॉपी करने वाले आर्टिस्ट की तरह ही कॉपी की है | कुछ दर्शको ने यह भी कहा की कब तक दुसरो की कॉपी करते रहेंगे और कॉपी करते भी है तो कम से कम क्रेडिट भी देना सीखो | आशीष चमोली ने इस गीत के विवरण में ओरिजनल कम्पोजिसन ऋषिराज पांडेय का नाम लिखा है लेकिन कुछ दर्शको का कहना है की आशीष चमोली ने यह नाम ट्रोल होने के बाद या यूँ कहे की चोरी पकड़े जाने के बाद लिखा| अब यह बाते कितनी सच है और कितनी झूट यह तो आशीष ही जाने | दर्शको द्वारा आशीष चमोली को सोशल मीडिया पर काफी ट्रोल किया जा रहा है | उत्तराखंड संगीत जगत में कलाकारों के यह काम कही न कही यह सवाल जरूर उठाते है की क्या अब मेहनत करने वाले कलाकार अपनी कला को खो चुके है और ऐसे ही कई सवाल आशीष चमोली पर उठना लाजमी है |

Preet Ku Rog

मोर संसार मा गीत आप यहां देख सकते है

यूट्यूब में रिलीज हुआ ‘‘भपका’’, गीत में दिखा रैप का मिश्रण

दर्शको का कहना है की आशीष ने अपने गीत के रिलीज होने से पहले और रिलीज होने के बाद भी यही कहा था की ये उनका ओरिजनल ट्रैक है | ऐसे में इस गीत के ओरिजनल सांग का पता चलना कही न कही दर्शको के विश्वास को तोड़ देता है | इसी बीच इस गीत के ओरिजनल कम्पोजर ऋषिराज पांडेय का कमेंट आशीष चमोली के गीत पर देखा गया जिसमे उन्होंने कहा की ”हमें बहुत खुशी हो रही है यह देखकर कि हमारे राज्य छत्तीसगढ़ के संगीत को इतनी खूबसूरती से पहाड़ी भाषा में संजोया गया है और पहाड़ी भाषा ने इस गीत पर चार चांद लगा दिए और हमें खुशी है कि हमारे काम से प्रेरणा लेकर आशीष चमोली व उनकी टीम ने इतने खूबसूरत तरीके से इस गीत को बनाया है चाहे वीडियो की बात हो या शब्दों को पिरोया हो आपकी पूरी टीम को बहुत-बहुत बधाई व शुभकामनाएं और हमारी पूरी टीम की तरफ से आपके उज्जवल भविष्य की कामना करते है ” ऋषिराज ने यह कमेंट किया तो है लेकिन किस अंदाज़ में कहा है ये थोड़ा सोचने और समझने वाली बात है | लेकिन ऋषिराज के इस कमेंट के बाद आशीष चमोली का कहना है की जब ऋषिराज को कोई दिक्क्त नहीं है तो उत्तराखंड के लोग क्यों किसी की टांग खिंच रहे है |

बावन द्वादशी मेला समापन समारोह: त्रिजुगीनारायण में दिखा उत्तराखण्डी सितारों का मेला, पढ़े ये रिपोर्ट

सोशल मीडिया पर आशीष चमोली की इस बात को काफी नकारा गया और नकारे भी क्यों नहीं दर्शक उनसे यह आस लगाए बैठे थे की वो अपना ओरिजनल सांग लेकर आये है लेकिन यहां तो बात ही कुछ और निकली | दर्शक हमेशा किसी भी कलाकार से सिर्फ इतना चाहते है की कोई भी कलाकार उनसे सच्चाई को न छुपाये | किसी के गाने गाना गलत नहीं है लेकिन असली कलाकर का नाम छुपाना गलत है, और अपनी इन्ही गलतियों की वजह से आशीष को ट्रोल होना पड रहा है |
Preet Ku Rog

सुण सरू गढ़वाली विडियो रिलीज, नये कलाकारों को मिला काम करने का मौका

खैर अब तक आशीष चमोली के इस सांग को काफी दर्शको द्वारा देखा गया है | जहा कुछ लोग विरोध कर रहे है तो कुछ लोग आशीष चमोली को काफी प्यार भी दे रहे है | आप भी यूट्यूब पर इस गीत व ओरिजनल गीत को भी देख सकते है |

Latest Uttarakhandi Songs – Full HD Videos

Facebook Comments

About Hillywood Desk

Check Also

सुरलहर यूट्यूब चैनल के गढ़वाली गीत कालू तिल के पोस्टर का अध्यक्ष प्रेमचंद्र अग्रवाल ने किया विमोचन।

सुरलहर यूट्यूब चैनल के गढ़वाली गीत कालू तिल के पोस्टर का अध्यक्ष प्रेमचंद्र अग्रवाल ने किया विमोचन।

उत्तराखंड विधानसभा अध्यक्ष प्रेमचंद्र अग्रवाल ने सुरलहर यूट्यूब चैनल के गढ़वाली गीत कालू तिल के …

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: