‘पापा की परी’ शार्ट फिल्म की शूटिंग पूरी !! निर्देशक अशोक चौहान जल्द रिलीज करने की तैयारी में !!

0
532
Ashok chauhan aashu

उत्तराखण्ड सिनेमा जगत अब अपने नवीनतम प्रयासों से प्रसिद्धि पा रहा है ,फिल्म निर्माण भले ही कारगर सिद्ध न हो लेकिन यहाॅ के निर्माताओं ने इसका तोड निकाल ही लिया शार्ट फिल्म अेोर वेब सीरीज के रूप में ,कम लागत और कम समय में शार्ट फिल्मों के माध्यम से दर्शकों तक अपनी भावनाओं को व्यक्त कर पा रहे हैं और नई कहानियों को परदे पर दिखाने को तैयार हैं। पापा की परी शार्ट फिल्म भी रिलीज को तैयार है।

जरूर पढ़ें : रुद्रप्रयाग के सुरेंद्र सत्यार्थी गीतकार के रूप में बना रहे अपनी पहचान !!लिखे हैं कई सुपरहिट गीत। पढ़ें खास रिपोर्ट !!

अपने अभिनय से पहाड के घर घर में पहुँचने वाले अशोक चेोहान जिन्होंने कई उत्तराखण्डी फिल्में, सुपरहिट एलबम्स में अभिनय किया है ,गढ़रत्न नरेंद्र सिंह नेगी की उस दौर की कोई एल्बम ऐसी नहीं रही थी जिसमें अशोक चौहान न दिखे हों। तीन दशक से कार्यरत अभिनेता अशोक चौहान निर्देशन की भूमिका भी बखूबी निभाते हैं और उनके निर्देशन में 10-11 गढ़वाली फिल्मों का निर्माण हो चुका है,साथ ही कई एल्बम में भी निर्देशन कर चुके हैं,उनका अभिनय केवल उत्तराखण्डी फिल्मों एवं एलबम्स तक ही सीमित नहीं रहा हिंदी फिल्म् खूनी जलजला में अभिनेता का किरदार निभा चुके हैं ,इजरायली फिल्म लेटर्स फ्रॉम ऋषिकेश में भी अभिनय कर चुके हैं। इसके साथ ही डाक्यूमेंट्री ,शार्ट फिल्म्स,हिंदी सीरियल स्वाभिमान, महेश भट्ट के निर्देशन में बनी फिल्म भागते रहो ,लव का दी एंड जैसी फिल्मों में अभिनय कर चुके हैं।

जरूर पढ़ें : हार्दिक फिल्म्स ने किया पोस्टर लांच। मास्टर मोहित सेमवाल जल्द लेकर आ रहे हैं पांगरी का मेला !!

अभिनेता /निर्देशक के बाद अब अशोक चौहान निर्माता की भूमिका निभा रहे हैं,अपने गीतों के संग्रह के लिए उन्होंने यूट्यूब चैनल माहेश्वरी फिल्म्स का निर्माण किया,अपनी संस्कृति के प्रचार-प्रसार गीत संगीत में अहम् योगदान देने वाले अभिनेता अशोक चौहान से हमने संपर्क करने की कोशिश की तो उन्होंने जानकारी दी कि वो ‘पापा की परी’ टाइटल एक शार्ट फिल्म की शूटिंग पूरी कर चुके हैं ये फिल्म एक पिता-पुत्री की कहानी पर केंद्रित है कितना अहम् योगदान होता है एक पिता का अपनी बेटी के जीवन में। घर में ही अगर बेटी को अपने विचार रखने की स्वतंत्रता हो ,क्या बुरा क्या भला इसका ज्ञान देने वाला पिता हो तो जरूर आसमान की बुलंदीयों को छूती हैं, ऊँगली पकड़कर चलना सिखाने वाले पिता और उम्र के साथ बढ़ती बेटी के प्रति जिम्मेदारी ,शिक्षा और समाज की चिंता सदैव ही पिता के मन-मस्तिष्क में रहती है ,लेकिन एक पिता अपना फर्ज निभाता है और बेटी को समाज में रहने के गुण ,परिवेश में ढलना भी सिखाता है,और अपने जीवन का सबसे बड़ा दान कर देता है ‘कन्यादान’ और साथ ही बेटी बचाओ बेटी बढ़ाओ अभियान को भी इसके माध्यम से दिखाया जाएगा,हालाँकि फिल्म की कहानी उन्होंने ज्यादा साझा नहीं की। और इस बात का हम भी ख्याल करते हैं क्योंकि कहानी हमें और आपको पहले से ही पता चल जाएगी तो देखने की रोचकता समाप्त हो जाएगी।

जरूर पढ़ें : किशना की फ्योंलडिया ने बनाया रिकॉर्ड। बना यूट्यूब पर 2 करोड़ व्यूज पाने वाला पहला गढ़वाली गीत !

शार्ट फिल्म का निर्देशन अशोक चौहान ने ही किया है और साथ ही लम्बे अरसे बाद दर्शक अभिनय की भूमिका में नजर आएंगे ,उनके साथ रीता भंडारी और शुभांगी देवली मुख्य भूमिका में रहेंगी।
समाज को सन्देश देने का कार्य करेगी ये फिल्म।

जरूर पढ़ें : इन गढ़वाली गीतों की रही 2018 में धूम, जानें कौन कौन शामिल हुआ टॉप 10 में।

जुड़े रहिए हमारे साथ आगे की ताजा जानकारी हिलीवुड न्यूज़ के माध्यम से आपको अवश्य मिलेगी।

HILLYWOOD NEWS
RAKESH DHIRWAN

RAKESH DHIRWAN

Facebook Comments