पहाड़ी A Cappella 2 लोगों को ख़ूब आ रहा है पसंद, जानें क्या है वजह

0
894

Pahadi A Cappella

पहाड़ी A Cappella 2 लोगों को ख़ूब आ रहा है पसंद, जानें क्या है वजह

हाल ही में उत्तराखंड के प्रसिद्ध गायक व संगीतकार गुंजन डंगवाल का यूट्यूब में एक गढ़वाली वीडियो सांग रिलीज हुआ हैं जिसकी थीम दर्शकों को खूब पसंद आ रही है। इससे पहले भी पहाड़ी A Cappella 1 आ चुका है लेकिन इस नए वर्जन में आपको बहुत कुछ नया देखने को मिलेगा। इस गीत की ख़ास बात यह है इसमें किसी भी प्रकार के इंस्ट्रूमेंट्स (वाद्य यन्त्र ) का प्रयोग नहीं किया गया है। पूरी धुन और ताल को मुँह और हाथ से प्ले किया गया है।

फिल्म लेखक ने पलायन पर बनाई एक मनमोहक कविता ,जानें क्या है इसमें ख़ास

आपको बता दें MGV DIGITAL की इस नयी प्रस्तुति पर दर्शकों के काफी सारे विचार (Comments) पढ़ने को मिल रहे हैं। इस पर गुंजन डंगवाल ने हालही में फेसबुक में एक पोस्ट भी की है जिसमें उन्होंने लिखा है – नमस्कार दोस्तों। हमारी इस नयी प्रस्तुति पर आपके बहुत सारे विचार (Comments) पढ़ने को मिल रहे हैं। अब ज़रा सा हमारी भी बारी।इस वीडियो को बनाने से पहले एक छोटी सी Story Line तैयार की गई। जो बहुत ही सीधी और Simple है। एक ऐसा घर जहां दो बड़ी उम्र के लड़कों के दीन-दुनिया से दूर माँ-बाप हैं। पिताजी के मोटे चश्मों के अन्दर कुछ हसीन सपने हैं। लेकिन घर की जिम्मेदारियों के कारण वो बार-बार धुंधले पड़ जाते हैं। अब बारी आई शब्दों के चयन की तो सबसे पहले हुक लाइन ढूंढी गयी और एक पुराने कुमाउँनी लोकभाषा के गीत से जिसमें सास अपनी बहु के साड़ी पहनने के अन्दाज को लेकर ताना मारती है कि अरे मरदूद अब ऐसे साड़ी पहनकर क्या गोठर (गुठ्यार/आंगन का ऐसा हिस्सा जहां गाय-भैंस बाँधी जाती हैं) में बकम-बम करेगी(उत्पात मचाएगी) … अब शुरुआत हो चुकी थी “गोठर दा बकम भम” गीत की। ऑडियो की आउट लाइन्स तैयार होने के बाद गीत लिखा गया। वीडियो तथा Audience की पसन्द-नापसन्द को ध्यान में रखते हुए तैयार हुई Click और Rhythm Arrangement…. साथ ही A Cappella की Feelings के अनुसार रणजीत सिंह, गुंजन डंगवाल, विशाल शर्मा और रैपर BLACK द्वारा आवाजों की प्रस्तुति और उनका मिश्रण (मिक्सिंग/मास्टरिंग) जो आप सुन ही रहे हैं।

Pahadi A Cappella

उत्तराखंड : आज और कल प्रदेश में बारिश-बर्फबारी के आसार

कुछ साथियों को A Cappella-1 भी पसन्द आया था। पर वो कुछ ही थे और एक साल बाद भी कुछ ही हैं। हमारा सभी साथियों से अनुरोध है इस गीत को आदिक से अधिक मित्रो तक पंहुचाइये ताकि नया करने की जिजीविषा इन कलाकारों में बनी रहे। As a Catalyst रेडियो ख़ुशी 90.4 FM,, Third बटन Studio, अतिथि कलाकार तथा Mentor की भूमिका में के रूप में दिखाई दिए रजनीकान्त सेमवाल और “दिया” जी के साथ Gaffer- गौरव मलकानी और प्रशांत उपाध्याय Artwork के लिए अमित राणा और अनिल केशव सिंह D.O.P- अनुराग रतूड़ी और प्रवीण सेमवाल के साथ Editor- ध्रुव वर्मा व नौका हिल रिसोर्ट का हम हार्दिक आभार व्यक्त करते हैं। टीम MGV DIGITAL.

अब आप तो समज ही गए होंगे की इस गीत को बनाने में कितनी मेहनत लगी है। अगर आप भी इस गीत को देखना चाहते हैं तो नीचे दिए लिंक पर क्लिक करें।