Breaking News

गुंजन डंगवाल के ‘नन्दु मामा की स्याली’ का ऑफिसियल वीडियो 10 जून को होगा रिलीज़, अभी देखें गाने का टीज़र

नन्दु मामा की स्याली गढ़वाली गीत को तो आप सभी ने सुना ही होगा। एक समय में यह गीत उत्तराखंड में सबकी जुबां पर सुनने को मिलता था। जो कि यूट्यूब पर भी काफी सुपरहिट रहा और पसंद किया गया। अब इस गीत का वीडियो जल्द ही आपको देखने को मिलेगा।

कम करने के बजाय गुप्तकाशी से हेली सेवा के लिये बढ़ा दिया किराया।

MGV Digital के बैनर तले बना मनोरंजन के मसालों से भरपूर “नन्दु मामा की स्याळी” गीत का वीडियो 10 जून 2019 को आपके सामने होगा। इस वीडियो में आपको Romance, Comedy, Suspense, Dance, Drama, Action जैसी विधाएं एक कहानी के साथ जुड़ी हुई मिलेंगी। गुंजन डंगवाल ने कई सुपरहिट गीतों को गाया है जिसमें से “चंद्रमा सूरज” बाली ज्वानी का सुपिन्या” और नन्दु मामा की स्याली आदि हैं। और इन्होने कई सुपरहिट गानों में अपना संगीत भी दिया है जिनमें से “चैत्वाली” “भग्यानी बौ” “करिश्मा शाह का मैशप” आदि प्रमुख हैं। “गुंजन डंगवाल” द्वारा गाये गए इस वीडियो गीत को निर्देशित किया है “अरुण फरासी” ने जबकि सिनेमेटोग्राफी में उनका साथ दिया है “राहुल रावत” ने जिन्होंने इसे सम्पादित भी किया है।

सलमान खान की फिल्म ‘भारत’ हुई रिलीज़, जानिए कैसी है फिल्म, Bharat Film Review

अब उनके बारे में जो 10 जून 2019 से आपके चाहने पर आपके Cellphone, Android, TV और Computer की Screen पर दिखायी देंगे। उनमे सबसे पहला नाम है सुप्रसिध्द उत्तराखण्डी Theater Artist मुकेश शर्मा घनसेला जो कि कई एल्बम और बॉलीवुड की फिल्मों में काम कर चुके हैं। जिनके साथ हैं अभिषेक भट्ट, नेहा मेहरोत्रा, परिचय डंगवाल, श्रीमती मोनिका देवी, श्रीमती धनी देवी, द्वारिका डंगवाल, राजमोहन डंगवाल, आशीष रावत, अमित राणा, अक्कू रावत, रवि राणा, नीरज सजवाण, अनुज टाइगर, सनाया राणा, गीता राणा और राशी जोशी।

इस गीत को अखोड़ी गाँव की बेहतरीन वादियों में फिल्माया गया है। सृजन डंगवाल ने इस गाने को एक बेहतरीन आकार दिया है। उन्होंने ही इस गाने की पूरी थीम लिखी है। इस गीत में मसक बीन की जो मधुर ध्वनि आपको सुनाई दे रही है वो रणजीत सिंह की है और ढोल पर सुरेश सिराज की है।

पहली अदाकारा जिसे मिला पदमश्री पुरस्कार, फातिमा राशिद से ‘‘नरगिस’’ बनने तक का सफर

वीडियो का टीज़र यहां देखें

अशोक नेगी की रिपोर्ट

Facebook Comments

About Hillywood Desk

Check Also

इंदर आर्य ने पहली बार गढ़वाली गीत काजल कु टिक्कू के जरिए बिखेरा मधुर आवाज का जादू।

इंदर आर्य ने पहली बार गढ़वाली गीत काजल कु टिक्कू के जरिए बिखेरा मधुर आवाज का जादू।

उत्तराखंड संगीत जगत में आए दिन नए गीतों की धूम मच रही है. हाल ही …

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: