उत्तराखण्ड पलायन विशेष निधि राणा का गीत ‘घुघूती भी यखुली घुरोंण लगीं’, कख गेन मनखी ! जरूर देखें आप भी

0
685
GHUGHUTI WALL

लोक-गायिका निधि राणा के गीत घुघुती भी यखुली घुरोंण लगीं चा उत्तराखण्ड पलायन की दशा को देखते हुए सटीक गीत लिखा गया है,घुघुती को पहाड़ में सदेश लाने वाली चिड़िया माना जाता है और जब भी इस पंछी की आवाज सुनाई देती है तो ससुराल में विवाहित महिलाओं को अपने मायके की याद आ जाती है।लोक-गायिका निधि राणा ने उत्तराखण्ड पलायन की स्थिति को अपने गीत के जरिए दर्शाया है वहीँ पलायन आयोग की रिपोर्ट के अनुसार प्रतिदिन औसतन 33 लोग अपना गाँव छोड़ रहे हैं जो कि चिन्ताजनजक विषय है। पलायन का मुख्य कारण रोजगार ,शिक्षा और बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं न हो पाना हैं। राज्य के 700 से अधिक गाँव पूरी तरह से खाली हो चुके हैं,पलायन के कारण राज्य के 565 गाँवों में वर्ष 2011 के बाद 50 प्रतिशत आबादी घटी है।

जरूर पढ़ें : उत्तराखंड में पलायन की स्थिति को बयां करता गीत “पीड़ा मेरा पहाड़ की” देखिये क्या है इसमें खास

उत्तराखण्ड से पलायन कर चुके लोग जो शायद ही कभी लौट कर उन गाँवों में लौटने को राजी होंगे क्योंकि उन्हें अपनी सुख सुविधा से मतलब है और शायद अब नहीं रहना चाहते हैं उन शांत वादियों में।
लेकिन समय-समय पर उत्तराखण्ड संगीत से जुड़े से गीतकार अपनी रचनाओं के माध्यम से पलायन कर चुके उत्तराखण्डियों को लौट आने का सन्देश देते हैं। पहाड़ की प्रकर्ति भी निशब्द है,यहाँ की नदियां,पंछी भी अपने दीदार करने वालों की ढूंढ में हैं,और वहीँ गायिका ने नेताओं के झूठे वादों एवं कोरी घोषणाओं को भी पलायन होने का मुख्य कारण माना है अगर जो सुविधाएँ सुगम क्षेत्रों में उपलब्ध हैं अगर वही दूर दुर्गम इलाकों में भी उपलब्ध हो जाएँ तो कोई पलायन नहीं करेगा यक़ीनन औरों को भी जागरूक करेंगे।

जरूर पढ़ें :“आंदि जांदी सांस ” एक गीत नहीं उत्तराखंड प्रवासियों को सन्देश

संगीत अमित वी कपूर ने दिया है जो कि उत्तराखण्ड के प्रसिद्ध संगीतकार हैं, साथ ही गीतकार संजय नेगी ने पलायन पर बहुत सुन्दर रचना की है। रैंदा देहरादून जैसे लोकप्रिय गीत से चर्चा में आने वाली गायिका निधि राणा ने समाज को जागरूक करने वाले गीत को आवाज दी है। इनका हाल ही में, ये बुढया को ब्यौ वीडियो भी रिलीज़ हुआ है जो यूट्यूब पर हिट हो रहा है।

जरूर पढ़ें : परदेश एक अनकही कहानी देखें इस शानदार विडियो को – आप भी कहोगे वाह

हिलीवुड न्यूज़
राकेश धिरवांण

अगर सच में पलायन को रोकने का कोई मूल समाधान है तो वो है गाँवों में मिलने वाले सुविधाए।रिवर्स माइग्रेशन इसका एक अच्छा विकल्प बन सकता है।
देखिए फिर घुघूती भी यखुली रैगे म्यूजिक वीडियो और पलायन के बारे में आप भी मन में एक बार जरूर सोचें।

Facebook Comments