मैथिली ठाकुर ने गाया गढ़वाली मांगल गीत,उत्तराखंड से मिल रहा बेशुमार प्यार !

0
1306

यूट्यूब पर अपनी क्लासिकल आवाज का जादू बिखेरने वाली मैथिली ठाकुर ने उत्तराखंड का पारम्परिक मांगल गीत हल्दी हात को अपने अंदाज में गाया है,बेनीपति मधुवनी बिहार की रहने वाली मैथिली ने अपनी गायिकी से समूचे हिंदुस्तान में नाम कमाया है। 

maithili-thakur-sings-garhwali-mangal-song-getting-immense-love-from-uttarakhand

यह भी पढ़ें: आसामी वायरल सॉन्ग बोल हीरा बोल का इंद्र आर्य ने बनाया कुमाऊंनी वर्जन। सुनिए आप भी।

इससे पूर्व भी मैथिली कुमाऊंनी लोकगीत स्वाल को अपनी आवाज में गा चुकी हैं,उत्तराखंड का मांगलिक गीत ‘दे देवा बाबा जी हल्दी का बान’ देवभूमि का मांगलिक गीत है जो विवाह की रश्म हल्दी हाथ में गाया जाता है,इसी गीत को मैथिली ने अपने दोनों भाइयों ऋषभ एवं अयाची के साथ गाया है।

यह भी पढ़ें: राज टाइगर का तेरा खातिर सोशल मीडिया पर वायरल !खूब झूम रहे श्रोता।

मैथिली की गायन शैली के सभी दीवाने हैं इनकी लाइव वीडियोज पर हजारों दर्शक जुड़ते हैं और इनके गायन की तारीफ़ करते नहीं थकते,मैथिली ने मात्र 3 वर्ष की उम्र में ही अपने दादा जी से संगीत सीखना शुरू किया और उसके बाद 6 साल की उम्र से अपने पिता रमेश ठाकुर से शास्त्रीय संगीत सीखना शुरू किया।जिसके बाद मैथिली की आवाज आज घर घर में गूंजती है।

यह भी पढ़ें: राज टाइगर का तेरा खातिर सोशल मीडिया पर वायरल !खूब झूम रहे श्रोता।

मैथिली के इस गीत को रिलीज़ होते ही 7 हजार दर्शक देख चुके हैं,वीडियो पर अधिकांश टिप्पणियां उत्तराखंड से हैं जिसमें मैथिली को इस गीत को गाने के लिए धन्यवाद किया जा रहा है,मैथिलि रामचरितमानस के कई अध्याय को अपनी आवाज में गा चुके हैं,साथ ही कई बॉलीवुड गीतों को भी लगातार लाइव आकर श्रोताओं के सामने गाती रहती हैं।

यह भी पढ़ें: केशर पंवार के साथ तानिया राणा ने दी लखणी गीत को आवाज़! श्रोता बोले वाह जी !

आप भी मैथिली ठाकुर की आवाज में सुनिए मांगल गीत हल्दी हात साथ ही गर्व कीजिए उत्तराखंड की सभ्यता एवं संस्कृति पर जिसे सम्पूर्ण हिंदुस्तान अपना रहा है।

हिलीवुड न्यूज़ को यूट्यूब पर देखने के लिए सब्सक्राइब करें।