महामाया करेंगी कोरोना का अंत अजय नौटियाल ने की जग जननी की स्तुति !

2
681

कोरोना महामारी से पूरी दुनिया परेशान है ,और इसका अंत कब होगा ये किसी को भी नहीं पता हर कोई इस महामारी से व्यथित हो गया है अब इसका अंत चाहता है, उत्तराखंडी गायक अजय नौटियाल ने इस महामारी के अंत के लिए जगत जननी महामाया की स्तुति की है। 

जगत जननी माता पार्वती का रूप बेहद सौम्य और ममता मई मुख वाला है,जो इस जगत की जननी हैं और भोलेनाथ की अर्धांगनी हैं,लेकिन नारी में कितनी शक्ति होती है ये जग जननी समय समय पर अपने भक्तों को दिखा देती हैं।

यह भी पढ़ें: कल्पा का टीजर लांच !कमली का अंदाज लाजवाब!

और जब भी संकट की घडी आती है,त्रिलोक में किसी भी देव में इतना सामर्थ्य नहीं होता है तो सभी की दृष्टि जग-जननी की ओर हो जाती हैं और फिर माता अपने सौम्य रूप से ऐसे रूप में प्रकट होती हैं जिसे देखकर दुष्ट दानवों में हाहाकार मच जाता है और महामाया का अवतार लेकर ऐसे दुष्टों का संहार करती हैं और जगत की रक्षा करती हैं।महामाया के हाथों महिषासुर,शुम्भ निशुम्भ जैसे कई अनगिनत दुराचारी दानवों का संहार किया है और देव और दानवों की रक्षा की है।

यह भी पढ़ें: फ्वां बाघ रे दुनिया भर में वायरल !बना उत्तराखंड का नंबर 1 गीत !

इस कलयुग में कोरोना का जन्म एक दानव रूप में हुआ है और इसी का संहार करने के लिए युवा गायक अजय नौटियाल ने महामाया का आहवान किया है कि ‘हे जगत जननी अब तुम ही इस कोरोना महादानव का संहार करो और इस संकट से दुनिया को बचाओ।

यह भी पढ़ें: कुमाउनी स्टार इंद्र आर्य का नाक में नथुली गीत रिलीज़ !तेरो लहंगा से मिला था फेम

इस कोरोना रक्षा गीत को अजय नौटियाल,नंदन सिंह राणा एवं अजय सेमवाल ने मिलकर लिखा है और इसे संगीत से रणजीत सिंह ने सजाया है।इसे रज्जी फिल्म्स ने यूट्यूब पर रिलीज़ किया है।

यह भी पढ़ें: बौजी गढ़वाली प्रोमो विवादों में !दर्शकों ने कहा ये हमारी संस्कृति नहीं !

अजय नौटियाल की मधुर आवाज में गाया ये भजन जन जन के मन की आवाज है और माँ महामाया जरूर सभी भक्तों की पुकार सुनेंगी और इस कलयुगी दानव का अंत जरूर होगा।

 

Facebook Comments