Karwa Chauth Special : करवाचौथ पर क्या कुछ है ख़ास, पढ़े ये रिपोर्ट

0
342

Karwa Chauth Special

17 अक्टूबर को पति-पत्नी के प्रेम को जताता करवाचौथ का त्योहार है। इस दिन महिलाएं अपने सुहाग की लंबी उमर की कामना करते हुए व्रत रखती हैं। शुभ संयोग लेकर आया ये दिन इस बार और भी खास रहेगा। पहली बार करवाचौथ का व्रत रखने जा रही महिलाओं के लिए चंद्रमा गुडलक की तरह आ रहे हैं। 70 साल बाद ऐसा संयोग होगा जब करवाचौथ की शाम चंद्रमा का उदय शुभ नक्षत्र में होगा। करवाचौथ का व्रत हर साल कार्तिक मास में कृष्ण पक्ष की चतुर्थी को किया जाता है। इस तिथि को संकष्टी चतुर्थी यानि संकट दूर करने वाली चतुर्थी के नाम से भी जाना जाता है। इस साल करवाचौथ का चांद रोहिणी नक्षत्र में उदय होगा। चंद्रमा की सबसे प्रिय पत्नी रोहिणी हैं इसलिए जब रोहिणी नक्षत्र में चंद्रमा का उदय होता है तो इसका फल अत्यधिक शुभ होता है।

Karwa Chauth Special

न्यूजीलैंड के उच्चायोग पहुंची पौड़ी जिले की कुमकुम पंत

17 अक्टूबर को दोपहर 3:23 पर कृतिका नक्षत्र समाप्त होगा और रोहिणी नक्षत्र शुरू होगा। यानी इस बार करवाचौथ पर दो नक्षत्रों का संयोग होगा जोकि नवविवाहितों के लिए विशेष फलदायी होगा। चंद्रमा की कृपा से उनके दाम्पत्य जीवन में प्रेम और सुख बढेगा।

चारधामों के कपाट अति शीघ्र होंगे बंद

वहीं इस बार करवाचौथ के दिन चंद्रमा वृष राशि में होने से खास फल मिलेगा. इस राशि के स्वामी शुक्र को प्रेम और संबंधों का कारक माना जाता है. इसलिए शुक्र के प्रभाव में चंद्रमा का होना विवाहित और प्रेमी जोड़ों के लिए लाभकारी है। व्रत रखने वालों के संबंधों में प्रेम और उत्साह की बढ़त होगी। सिर्फ यही नहीं इस बार करवाचौथ पर सुबह सूर्योदय के समय तक सर्वार्थ सिद्धि योग भी रहेगा. ऐसे में सूर्योदय से पहले उठकर स्नान और पूजा कर व्रत संकल्प लेना फलदायी होगा। इसके साथ ही करवाचौथ के दिन चंद्रमा और मां पार्वती की पूजा करने से परिवारिक परेशानियों से उबरने और सुख-शांति का मार्ग खुलेगा।

Karwa Chauth Special

कई प्रधान जीतने के बावजूद कुर्सी नहीं संभाल पायेंगे, चुनावी माहौल ने दिलाई इस गढ़वाली गीत की याद, पढ़े पूरी खबर

इस वर्ष करवाचौथ एक शुभ संयोग लेकर आया है लगभग ७० साल बाद ऐसा संयोग आया है जब करवाचौथ की शाम चन्द्रमा उदय शुभ नक्षत्र यानी रोहणी नक्षत्र में होगा। करवाचौथ पर जहां चांद को लेकर अक्सर ये कहा जाता है कि चांद व्रत करने वालों के सब्र की परीक्षा लेता है। इस बार व्रतियों को राहत देने के लिए चांद रात 08:19 पर नजर आ जाएगा।

Facebook Comments