जुबिन नौटियाल की चिट्ठी में पहाड़ के लिए प्रेम नया वीडियो हुवा रिलीज़

1
130
jubin

उत्तराखंड की चिट्ठी आखिर बॉलीवुड पहुंच ही गई बॉलीवुड के मशहूर गायक और उत्तराखंड की शान जुबिन नौटियाल के द्वारा चिट्ठी सॉन्ग गाया गया है, जो कि टी सीरीज के बैनर तले रिलीज किया गया है. खास बात यह है कि चिट्ठी सॉन्ग उत्तराखंडी गाने पर बेस्ड है. यह गाना मूल रूप से जौनसारी गाना है जिसे गाया है लोक गायक खजान दत्त शर्मा ने. इस गाने में जुबिन ने अपनी मखमली आवाज और अदाकारी से सभी का दिल भी जीत लिया है.. अपनी दमदार एक्टिंग के दम पर एक मंझे हुए कलाकार नजर आ रहे हैं.

बामणी 2 गीत की रचना का क्या था उद्देश्य जानना जरुरी है – देखें पलायन पर कटाक्ष – गीत के माध्यम से

इससे पहले बॉलीवुड सोंग हमनवा मेरे में जुबिन ने सिंगिंग के साथ-साथ एक्टिंग भी की थी, जिसकी सभी जगह प्रशंसा की गई.जुबिन अपनी गायकी के साथ साथ अपनी एक्टिंग की छाप भी अब बॉलीवुड पर छोड़ते जा रहे हैं ,आपको बता दें जुबिन नौटियाल लगातार उत्तराखंड की संस्कृति और उसकी बोली भाषा को प्रचार-प्रसार करने में लगे हुए हैं। बॉलीवुड में भी वह अब पुराने गाने को नए कलेवर के साथ ला रहे हैं. सबसे पहले उन्होंने एमटीवी कोक स्टूडियो में जौनसारी गाना चिट्ठी गाया था, जिसमें बॉलीवुड के रैपर बादशाह ने रैप गाया था. उसके बाद जुबिन के द्वारा इलेक्ट्रा फोक में गढ रत्न नरेंद्र सिंह नेगी के गीत ता छूमा गीत को नए कलेवर के साथ गाया. जुबिन लगातार बॉलीवुड में उत्तराखंडी गानों को गाकर यहां की बोली भाषा को प्रचारित प्रसारित कर रहे हैं. जुबिन का अपनी लोक भाषा और संस्कृति से खासा लगाव है.

“आंदि जांदी सांस ” एक गीत नहीं उत्तराखंड प्रवासियों को सन्देश

जुबिन के गानों से युवा पीढ़ी अपनी संस्कृति और बोली भाषा से जुड़ रही है,इसके साथ ही उत्तराखंडी भाषा और यहां के फोक म्यूजिक को पूरा देश सुन रहा है जुबिन के ऐसे प्रयासों की सराहना की जानी चाहिए जिससे कि हमारे प्रदेश की बोली भाषा, संस्कृति एवं लोकगीतों को बढ़ावा मिल रहा हैजुबिन के साथ आकांक्षा पुरी मुख्य भूमिका में हैं गीत के बोलों को थोड़ा हिंदी भाषा में परिवर्तित किया गया है जो कि दर्शकों की समझ को देखते हुए किया गया है कुमार ने चिट्ठी गीत के हिंदी बोल लिखे हैं ओ साथी तेरी चिट्ठी पते पे आए न जबकि पहाड़ी भाषा में यही गीत ओ साथी तेरी चिट्ठी पत्री आई न था।

रेशमा छोरी गीत बना युवाओं की पहली पसंद अब तक यूट्यूब पर मिले 1 मिलियन से अधिक व्यूज

अपने पाठकों को बता दें कि उत्तराखंड में यह गीत काफी प्रचलन में हैं।
पहाड़ के अन्य युवा गायक शाश्वत जे पंडित ,अर्पित शिखर और पंकज सती भी इस गीत को नई धुन में गा चुके हैं और उन्होंने भी अपनी वीडियो में जुबिन नौटियाल का जिक्र किया है और उन्हें समर्पित किया था ओ साथी गीत।
उत्तराखंड के लिए कलाकारों का समर्पण देखने योग्य है आप भी पढ़िए जुबिन की चिठ्ठी।
HILLYWOOD News
Rakesh Dhirwan

Facebook Comments