ब्यो बारातियों के दिन अगर मिस कर रहे हो, तो ये गीत आपके लिए ही बना है !

1
582
if-you-are-missing-the-wedding-session-then-this-song-is-made-for-you-only

वैसे तो ये साल शादियों के मामले में थोड़ा शांत सा रहा लेकिन उत्तराखंडी संगीत प्रेमी इस दौरान झूमते ही रहे, और कई नए गीत इस बीच रिलीज़ हुए।ब्यो बारातियों का दिन गीत शादी के माहौल की याद दिला रहा है। 

यह भी पढ़ें : दून में गजरा वीडियो की शूटिंग जारी,पहली बार एकसाथ नजर आएंगे संजय सिलोड़ी और दिव्या नेगी

हार्दिक फिल्म्स के बैनर तले जीजा स्याली के  संवादों पर आधारित गीत ब्यो बारातियों का दिन रिलीज़ हुआ है जिसे सुनते ही दर्शक बाराती बन बैठे और शादी के माहौल में खुद को महसूस करने लगे,भागचंद सावन द्वारा रचित इस गीत को आवाज जस पंवार एवं ममता पंवार ने दी है व इसे संगीत से शैलेन्द्र शैलू ने संगीत दिया है।

यह भी पढ़ें : कोटद्वार में बारिश की फुहारों के बीच मेरी सजीला वीडियो की शूटिंग !

उत्तराखंड की शादियों के कई रंग दिखते हैं,जहाँ शादी हो तो उस घर में कई दिनों से रौनक बनी रहती है यहाँ शहरी शादियां नहीं होती जो एक ही रात में निपट जाएं,हर घडी हर पहर का महत्त्व होता है पहाड़ की शादियों मे,मंगल स्नान से लेकर दुल्हन के आगमन तक कई ऐसी रस्में होती हैं जिन्हें पूरा परिवार एक साथ निभाता है।

यह भी पढ़ें : गीताराम कंसवाल मचा रहे हैं धूम !रिलीज़ हुआ स्याली भरुणा 2 !

गाँव की शादी में आपको सब एक परिवार के लगेंगे और पता ही नहीं लगेगा आखिर दूल्हे के पिता कौन हैं और माता कौन क्योंकि सब पूरी तन्मयता से शुभ कार्यों में लगे रहते हैं और एक परिवार की ख़ुशी में पूरा गाँव शरीक होता है ,सबका मिलकर घर के चौक (आँगन) या खेतों में पंगति में बैठकर खाना हो या मेहँदी रात में रंगमत होकर ठुमके लगाना।

यह भी पढ़ें : संगीतकार के साथ ही शैलेन्द्र अभिनय में भी कर रहे धमाल!माया वीडियो में आए नजर !

चलो ये तो था वर पक्ष के घर का दृश्य लेकिन जैसे ही बारात कन्या के घर पर पहुँचती है तो वहां शुरू होता है आदर सत्कार और गालियों की बौछार जो अब धीरे धीरे समाप्त हो रही है लेकिन फिर भी कई जगह इसका बदलता स्वरुप नजर आ ही जाता है,अब मांगल तो नहीं लगते लेकिन जीजा स्याली की नोंक झोंक और खट्टी मीठी हंसी मजाक में अब भी कमी नहीं आई है और आज भी गाँव की शादियों में ये रौनक बरकरार है।

यह भी पढ़ें : आखिरकार मिल ही गया विनोद! इस वीडियो में जानिए कौन है विनोद ! 

भागचंद सावन ने शानदार रचना से इस माहौल का जिक्र गीत के माध्यम से किया है और उतनी ही खूबसूरती से इस गीत को जस पंवार एवं ममता पंवार ने निभाया है।

अगर ये सब पढ़कर आपका मन भी शादी में नाचने का होने लगा है तो सुनिए ये गीत ब्यो बारात्यों का दिन। 

 

Facebook Comments