ये हैं हमारे उत्तराखण्ड के सिंघम, जिनके नाम से ही कांपते हैं अपराधी

0
914

ये हैं हमारे उत्तराखण्ड के सिंघम, जिनके नाम से ही कांपते हैं अपराधी

जब भी हमारे उत्तराखण्ड में काबिल अफसरों का नाम लिया जाता है। जिनका नाम सुनते ही लोग गलत या अवैध काम करने में कतराते है या जो गलत काम करने वालों के अंदर डर पैदा करते है । जिनका काम करने का अंदाज़ सबसे अलग है। जहाँ जहाँ ये जाते है वहां कोई भी इंसान क़ानून को अपने हाथ में नहीं लेता। जी हाँ हम बात कर रहे है I.A.S दीपक रावत (IAS Deepak Rawat) की।

इन दिनों I.A.S दीपक रावत तीर्थ नगरी हरिद्धार में कार्यरत हैं जब से हरिद्धार की कमान इनके हाथों में गयी है तब से इन्होने वहां की तस्वीर ही बदल दी। इसलिए ज़्यादातर लोग जो बिना हेलमेट या दस्तावेजों के देहरादून से बाइक या गाडी पर सवार हरिद्धार की ओर रुख करते है एक न एक बार यह ज़रूर सोचते होंगे कहीं इनके हत्थे न चढ़ जाये।

इससे पहले I.A.S दीपक रावत नैनीताल में थे और उससे पहले कुमाऊ मंडल विकास निगम के M.D के पद में थे। जहाँ जहाँ इनकी छत्रछाया पढ़ी है वहां तो कुछ न कुछ सुधार ज़रूर हुआ है। यहाँ तक की अस्पतालों से लेकर स्कूलों में इनका बड़ा ही खौफ रहता है। इसके इलावा सोशल मीडिया में ये काफी एक्टिव रहते है। आये दिन सोशल मीडिया में इनकी वीडियोज ज़रूर देखने को मिलती है। जिसमे कभी किसी गरीब इंसान की मदद करते हुए नज़र आते है या फिर कभी किसी गलत काम का भांडा फोड़ते हुए नज़र आते है। या कभी बच्चों के साथ मस्ती करते हुए नज़र आते है। इतना ही नहीं यह कभी पुलिस वालों को अपने घेरे में लेते है। या फिर किसी पेट्रोल पंप में छापा मारते हुए नज़र आते है।

Holi Special Songs : आइये जानते हैं होली पर्व से जुड़े कुछ ख़ास उत्तराखंडी गीतों के बारे में

इन दिनों इनका एक वीडिओ बड़ा वायरल हो रहा है जिसमे एक गरीब परिवार की मदद करते हुए यह नज़र है। पैर में रॉड लगने के कारण और पैसे न होने के कारण जब परिवार का एक सदस्य अपना इलाज़ नहीं करवा पा रहा था। तब I.A.S दीपक रावत ने इनकी मदद की। I.A.S दीपक रावत जैसे लोगों की देश के हर जिले में ज़रूरत है।

Facebook Comments