प्रवासियों को पहाड़ लौटने की प्रेरणा देता सूरज व केशव का गीत ”हिट म्यार पहाड़ ”

0
447

Hit Mera Pahad

उत्तराखंड संगीत जगत में आये दिन कई गाने रिलीज होते है। अगर इन गानो को देखा जाए तो हर गाने के पीछे कुछ न कुछ संदेश छुपा होता है। यूट्यूब पर यूँ तो हमेशा गढ़वाली और कुमाउनी गाने देखने को मिलते है लेकिन अभी हाल ही में यूट्यूब पर गढ़वाली और कुमाउनी गाने को एक साथ मिलाकर गाया गया है। जिसका नाम है ‘हिट म्यार पहाड़ ”

कुमाऊं में मनाया जाता है पहाड़ का पारम्परिक त्यौहार “दूतिया”

अभी हाल ही में यूट्यूब पर एक उत्तराखंडी गीत जिसके बोल है ”हिट म्यार पहाड़ ”रिलीज हुआ। जिस तरह से इस गीत के नाम में ही लिखा है की हिट म्यार पहाड़ अर्थात चल मेरे पहाड़ यह गीत शहर में रह रहे पहाड़ियों को वापस लौटने का संदेश देता है । इस गाने को कुमाउनी व गढ़वाली में गाया गया है। इस गीत को गाया है केशव ने साथ ही इस गीत में सूरज त्राटक रैप करते नजर आये।

उत्तराखंड में पहली बार राफ्टिंग और कयाकिंग खेल के लिए पिथौरागढ़ आयोजित होगी प्रतियोगिताएं

इस गीत में यह दर्शाया गया है की पर्यटक जब भीं हमारे पहाड़ो में आते है तो पहाडो से उन्हें बेइंतहा प्यार मिलता है। साथ ही इसमें दिखाया है की एक लड़की जो की शहर से पहाड़ में घूमने आती है ,और पहाड़ की खूबसूरती उसे काफी भाति है ,जब वो गाँव में आती है और वहां पर कचरा फैलाती है जैसा की अधिकतर पर्यटक करते है। उसके द्वारा फैलाये कचरे को गाँव के लड़के साफ़ कर देते है । जब वो लड़की वापस पहाड़ से अपने घर को जाती है तो अपने साथ यह सीख लेकर जाती है की अगर कही पर भी घूमने जाए तो वहां पर साफ़ सफाई रखने की जिम्मेदारी भी हमारी होती है।

केशर पंवार व अनिशा रांगड़ के ”नेपाली रासो ”गीत का वीडियो हुआ रिलीज

यह गीत जितनी खूबसूरती से गाया गया है उतना ही अच्छा संदेश इस गीत के जरिये दिया गया है। अक्सर जब भी हम कही जाते है तो उस जगह पर कचरा फैला कर गंदा कर देते है। इस गीत में दिखाया गया है की जिन पहाड़ो की खूबसूरती से हम प्यार करते है उसको स्वच्छ रखना भी हमारी जिम्मेदारी है। साथ ही स्थानीय लोगो की भी भूमिका होती है की वो आने वाले पर्यटकों को सफाई के प्रति आगाह करे। गीत में काइरा कंथवाल, सूरज त्राटक व केशव अभिनय करते नजर आये। साथ ही गीत को अपने संगीत से अभिजय ने सजाया हैं। यह गीत उत्तराखंड टूरिज्म को भी बढ़ावा देता है। इस गीत में उत्तराखंड की खूबसूरती को बेहतरीन तरिके से दिखाया गया है। इस गाने को डायरेक्ट अंकित चमोली ने किया है। ये गीत प्रवासियों को अपने पहाड़ की तर लौटने का संदेश भी देता है।

उत्तराखंड में शैलेश मटियानी पुरस्कार की प्रक्रिया हुई शुरू ,पुरस्कार से नवाजे जाएंगे उत्तराखंड कई शिक्षक

अब तक यूट्यूब पर इस गाने को अच्छी प्रतिक्रियाएं देखने को मिल रहे है। दर्शको ने सूरज त्राटक व केशव रेप्रोक्स की इस कोशिस को सराहा है। उम्मीद है आगे भी यह गीत दर्शको को काफी पसंद आएगा।

आप भी इस गीत को निचे दिए गए लिंक पर देख सकते है।

सीमा रावत की रिपोर्ट

Facebook Comments