हिंदी सिनेमा ने खोया एक और हीरा, लता मंगेशकर ने जताया शोक

0
447
Hindi cinema lost another diamond, Lata Mangeshkar mourns
Photo File

हिंदी सिनेमा के जाने-मान साउंड रिकॉर्डिस्ट डीओ भंसाली(D.O. Bhansali) ने  भी   दुनिया को अलविदा कह दिया है । लता मंगेशकर (Lata Mangeshkar) ने ट्ववीट कर उनके निधन की जानकारी दी है ।

यह भी पढ़े : आमिर खान ने सोशल मीडिया में गेहूं की बोरियों के अंदर छुपाये पैसों वाली खबर को कहा झूठ

देश में चारों तरफ शोक का माहौल बना हुआ है। एक तरफ देशभर में कोरोना के प्रकोप के चलते मरीज़ों की मौत का आंकड़ा लगातार बढ़ रहा है। दूसरी तरफ पिछले कुछ दिनों  में बॉलीवुड के 2 दिग्ग्गज अभिनेताओं ने भी दुनिया को अलविदा कह दिया है। दोनों की मौत ने देश को झकझोर के रख दिया ।आम लोगों से लेकर बॉलीवुड जगत,बड़े बड़े दिग्गज नेता बॉलीवुड के 2 दिग्ग्गज अभिनेताओं को खोने के बाद ग़म में डूबे हुए है। दोनों दिग्गज़ अभिनेताओं की मृत्यु को अभी कुछ ही दिन हुए ही थे कि इसी बीच बॉलीवुड  जगत से एक और बुरी खबर सामने आ रही है।

यह भी पढ़े : लॉक डाउन में शाहरुख़ खान एक्टिंग छोड़ बने गायक

हिंदी सिनेमा ने सोमवार को एक और दिग्गज शख़्सियत को खो दिया है । हिंदी सिनेमा के जाने-माने साउंड रिकॉर्डिस्ट डीओ भंसाली ने भी इस दुनिया को अलविदा कह दिया है। 92 साल के भंसाली के निधन की जानकारी लता मंगेशकर ने दी और शोक व्यक्त किया।लता ने ट्वीट करके यह जानकारी देते हुए लिखा- हमारी इंडस्ट्री के बहुत मशहूर साउंड रिकॉर्डिस्ट डीओ भंसाली जी का आज निधन हुआ। यह सुनकर मुझे बहुत दुख हुआ। उन्होंने मेरे कई फ़िल्म गाने रिकॉर्ड किये। वो बहुत अच्छा रिकॉर्डिस्ट थे। मीनू कतरक जी, जिन्हें हम मीनू बाबा कहते थे, उनके वो असिस्टेंट थे।

डीओ भंसाली ने 250 से अधिक फ़िल्मों के लिए काम किया था। उन्होंने बतौर असिस्टेंट और चीफ रिकॉर्डिस्ट कई हिट गानों पर काम किया था। उनका करियर 1948 में फ़िल्म विद्या से बतौर साउंड असिस्टेंड शुूरू हुआ था। 1959 में कन्हैया फ़िल्म से उन्होंने मीनू करतक को असिस्ट करना शुरू किया था। सत्तर के दशक की शुरुआत में उनका नाम क्रेडिट रोल्स में साउंड रिकॉर्डिस्ट के तौर पर जाने लगा था। उनकी आख़िरी फ़िल्म 1997 में आयी ढाल है, जिसमें सुनील शेट्टी और गौतमी ने मुख्य भूमिकाएं निभायी थीं।

यह भी पढ़े : प्रोड्यूसर गिल्ड ऑफ इंडिया के सीईओ कुलमीत मक्कड़ का हुआ आकस्मिक निधन मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र रावत ने दी श्रद्धांजलि

बता दें कि पिछले कुछ वक़्त से बॉलीवुड में वेटरन आर्टिस्टों के जाने का सिलसिला जारी है। 29 अप्रैल को इरफ़ान ख़ान ने अलविदा कह दिया। 30 अप्रैल को ऋषि कपूर यह दुनिया छोड़कर चले गये। पहली अप्रैल को प्रोड्यूसर्स गिल्ड के सीईओ कुलमीत कक्कड़ का हार्ट अटैक से निधन हो गया था।

 

 

Facebook Comments