सरकार ने पांच अलगाववादी नेताओं की सुरक्षा और सुविधाएं खत्म कीं

0
863
dd

पुलवामा अटैक के बाद से देश में बहुत आक्रोश है और अब इसी कड़ी में सरकार ने जम्मू-कश्मीर में अलगाववादी नेताओं खिलाफ कड़े कदम उठाते हुए उन्हें दी गई सभी सुरक्षा और सुविधाएं वापस लिए जाने का बड़ा निर्णय लिया है। जम्मू-कश्मीर के उच्चाधिकारियों के मुताबिक, अलगाववादी नेता मीरवाइज फारूक, अब्दुल गनी भट, बिलाल लोन, हाशिम कुरैशी और शब्बीर शाह की सुरक्षा और वाहनों की सुविधा रविवार से वापस ली जाएगी। बता दें कि 14 फरवरी को पुलवामा में सीआरपीएफ के काफिले पर फिदायीन हमला हुआ था जिसमें 40 जवान शहीद हो गए थे।

अफसरों के मुताबिक, अलगाववादी नेताओं को किसी भी कारणवश सरकार ने जो सुविधाएं उपलब्ध कराई है, उसे वापस लिया जाएगा। सूत्रों का यह भी कहना है कि किसी और अलगावादी को सरकारी सुरक्षा या सुविधाएं हासिल है, तो राज्य पुलिस मुख्यालय इसकी समीक्षा करेगा और इसे  तुरंत वापस ले लिया जाएगा।