गढ़रत्न नरेंद्र सिंह नेगी ने वीडियो गीत शेयर कर प्रदेशवासियों को उत्तराखंड राज्य स्थापना दिवस की दी बधाई !

0
729
gadharatna-narendra-singh-negi-congratulated-the-people-of-uttarakhand-state-foundation-day-by-sharing-the-video-song

उत्तराखंड राज्य देश का 27 वां राज्य है ,जो 9 सन 2000 नवंबर को उत्तरप्रदेश से अलग होकर बनाया गया था,उत्तराखंड राज्य कई संघर्षों एवं शहीदों के बलिदान के बाद अलग राज्य बनाया गया है,आज प्रदेश स्थापना दिवस की 20 वीं वर्षगाँठ मना रहा है,लोकगायक नरेंद्र सिंह नेगी ने अपने पुराने गीत को शेयर कर देवभूमि वासियों स्थापना दिवस की बधाईयां दी हैं। 

gadharatna-narendra-singh-negi-congratulated-the-people-of-uttarakhand-state-foundation-day-by-sharing-the-video-song

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड की भावना का बॉलीवुड कनेक्शन !जानिए भावना बड़थ्वाल का सफर इस रिपोर्ट में !

गढ़रत्न नरेंद्र सिंह नेगी उत्तराखंड संगीत जगत के इकलौते ऐसे गीतकार एवं गायक हैं जिन्होंने हर विषय पर गीत लिखे  एवं गाए हैं,चाहे वो एक नारी का दर्द हो,वृद्ध माता पिता का दर्द हो या देवभूमि का गुणगान ,हर्ष उल्लास करुणा विरह हर विषय पर नेगी दा ने गीतों की रचना की है,साथ ही लोकगायक नेगी ने अपने गीतों के माध्यम से समय समय पर राजनैतिक गीतों से सरकार हिलाने का भी दमख़म दिखलाया है।

यह भी पढ़ें: मसूरी में राज्य स्थापना दिवस की पूर्व संध्या पर उत्तराखंडी कलाकारों की सांस्कृतिक संध्या का आयोजन!

आज उत्तराखंड अपने स्थापना दिवस के 21 वें वर्ष में प्रवेश करने जा रहा है,स्थापना दिवस की शुभकामना देते हुए नेगी दा ने सोशल मीडया के जरिए उत्तराखंड वासियों को बधाइयाँ दी हैं,नेगी दा ने अपना बहुत पुराना गीत” बोला भै बन्दों’ जागा उत्तराखंड एल्बम का गीत शेयर किया है।

यह भी पढ़ें: कुमाऊंनी वीडियो गीत घाघरी घूमे दे में तानिया आर्य की डांस स्किल ने जीता दर्शकों का दिल!

ये गीत राज्य आंदोलन के समय ये गीत काफी प्रचलित हुआ था जिसमें गीतकार नेगी ने उत्तराखंड की जनता से गीत के माध्यम से सवाल किए कि उत्तराखंड वासियों को कैसा उत्तराखंड चाहिए इसका जवाब भी गीत में ही आपको मिल जाएगा ,नेगी दा की कलम दूरदर्शी सोच का चित्रण करती है,गीत में कहा गया है कि हमें ऐसा उत्तराखंड चाहिए जहाँ जात पात का भेदभाव न हो,पलायन न हो,रोजगार के अवसर यहीं उत्तराखंड में हो,स्वरोजगार के अवसर खुलें।

यह भी पढ़ें: संगीत के जरिए जीवंत है पहाड़ी संस्कृति !पांडव लीला देखनी हो तो इस गीत को जरूर देखना चाहिए।

आज उत्तराखंड सम्पन राज्य है लेकिन इतने वर्षों में जिन बुलंदियों पर उत्तराखंड होना चाहिए था वो यहाँ के राजशाही तंत्र ने उस मुकाम तक नहीं पहुँचाया जिससे जनता में आज भी उतना ही रोष व्याप्त है जितना शुरूआती दौर में रहा था।

आप भी लोकगायक नेगी की आवाज में इस गीत को सुनिए।

https://www.facebook.com/watch/?v=281117129892848

सभी प्रदेश वासियों को हिलीवुड न्यूज़ की पूरी टीम की तरफ से स्थापना दिवस की ढेरों शुभकामनाएं,अपना योगदान एक सक्षम राज्य बनाने में जरूर दें।