चमोली के बाद पिथौरागढ़ में भी महसूस हुए भूकंप के झटके

0
839

Earthquake in Pithoragarh

उत्तराखंड लगातार खतरों के संकेतो से भर रहा है। कभी बद्रीनाथ में खतरा नजर आ रहा है तो कभी पहाड़ो में भूकंप के झटके महसूस किये जा रहे है।यह सारे संकेत कही किसी बड़े खतरे की निशानी तो नहीं ? उत्तराखंड में आज सुबह भूकंप के झटके महसूस किये जिसके बाद लोगो में दहशत बनी हुई है। आज तड़के उत्तराखंड के पिथौरागढ़ जिले के कुछ इलाकों में भूकंप का तीव्र झटका महसूस किया गया। सुबह 7:30 बजे पिथौरागढ़ के मुनस्यारी, डीडीहाट सहित विभिन्न हिस्सों में लोगों ने जोर का भूकंप का झटका महसूस किया गया। जिसके बाद लोगो में दहशत का माहौल है।

Earthquake in Pithoragarh

प्रथम भारतीय शिक्षा मंत्री के जन्मदिवस पर मनाया जा रहा है राष्ट्रीय शिक्षा दिवस

भारतीय मौसम विभाग की जानकारी के अनुसार भूकंप की तीव्रता रिक्टर पैमाने पर 4.5 मैग्नीट्यूड थी और भूकंप का केंद्र पिथौरागढ़ था। यह 10 किमी. की गहराई में था। अभी तक किसी की जान-माल के नुकसान की कोई सूचना नहीं है। भूकंप महसूस होते ही लोग सुरक्षा के लिए घरों से बाहर निकल आए। पिथौरागढ़ के अलावा चंपावत, अल्मोड़ा, बागेश्वर और नैनीताल में भूकंप का झटका महसूस किया गया, साथ ही पौड़ी में भी भूकंप के हल्के झटके महसूस होने की खबर है।

बंगाल की खाड़ी में मंडरा रहा ”बुलबुल ”का खतरा, आज आ सकता है बड़ा तूफ़ान

आपको बता दें की इससे पहले एक अक्टूबर को चमोली जिले में भी भूकंप का झटका महसूस किया गया था। चमोली में शाम करीब 6:57 बजे भूकंप के झटके महसूस किए गए थे जिसकी तीव्रता रिक्टर पैमाने पर 3.3 थी। भूकंप की गहराई भूमि से दस किलोमीटर अंदर थी। इसका केंद्र भी चमोली था। बता दें कि भूकंप की दृष्टि से जोन पांच में चमोली जिला सबसे ज्यादा संवेदनशील हैं। भूकंप की तीव्रता बेहद कम होने के चलते क्षेत्र में किसी प्रकार का कोई नुकसान नहीं हुआ है।

मौसम बदल रहा अपना रूख, गुरुवार को फिर से हुई पहाड़ो में बर्फबारी

उत्तराखंड में लगातार आ रहे भूकंप किसी बड़े खतरा का संकेत भी हो सकते है। फ़िलहाल अभी तक किसी भी खतरे का अंदेशा नहीं लगाया जा सकता।

Facebook Comments