ऑफिस की थकान होने के बाद भी अच्छी नींद न आना, करें यह आसान काम

0
24
ऑफिस की थकान होने के बाद भी अच्छी नींद न आना, करें यह आसान काम

परेशानी तब और ज्यादा बढ़ जाती है जब आप बेहद थके हुए होते है लेकिन पूरी रात करवटें बदलने में निकल जाती है और कभी कभी नींद इतनी हावी हो जाती है की रात पुरे साल के बराबर महसूस होती है इसके लिए अच्छी नींद का लेना बेहद जरूरी है जब तक शाररिक थकान दूर नहीं होगी तो मानसिक थकान का बढ़ना स्वतः है l 

यह भी पढ़े  : लाल लिपस्टिक और बनारसी साड़ी में नवाजुद्दीन ने सभी को किया हैरान, देंखे तस्वीरें

अच्छे स्वास्थ के लिए मानसिक शांति का होना बेहद जरूरी है जिसके लिए नियमित रूप से नीद लेना बेहद जरूरी है साथ ही गैजेट्स जो आपका पूरा ध्यान और समय खींचते है उनसे भी थोड़ी दूरी बनाना जरूरी है l ऐसे में शवासन करना बेहद जरूरी है जो की केवल 15 मिनकत में आपकी थकान को दूर कर देगा और मानसिक शांति के साथ शारीरिक शांति की भी अनुभूति होगी l

यह भी पढ़े  : लाल लिपस्टिक और बनारसी साड़ी में नवाजुद्दीन ने सभी को किया हैरान, देंखे तस्वीरें

शवासन की विधि

शवासन के अभ्यास के लिए सर्वप्रथम जमीन पर पीठ के बल लेट जाते है। लेकिन केवल लेट जाना हीशवासन नहीं है। सामान्य रूप से जब हम लेटते है तब न अपने पेटी की स्थिति के प्रति सजग रहते हैं और नही हाथों को ठीक प्रकार से रखते है। पीठ के बल लेटने के बाद पैटों के बीच उतनी ही टूटी रखते हैं जितनी कीकमर की चौड़ाई हो। इसके पश्चात् हाथों को शरीर के बगल में लगभग 15 सेन्टीमीटर की दूरी पर रखते हैं हथेलियाँ ऊपर की ओर खुली रहेंगी, अंगुलियों को थोड़ा जोड़ सकते है अर्थात हथेलियों को उलटा नहीं बल्कि सीधा रखना है।

यह भी पढ़े  : सानिया मिर्जा और शोएब मलिक के रिस्ते में आई दरार, जल्द तलाक लेने जा रहा कपल

तत्पश्चात मुँह को बन्द रखते हुए निचले जबड़े की हीला रखते है। ध्यान रहे की चेहरे पर किसी प्रकार कॉ तनाव न रहे। सिर एवं मेरुदंड एक सीध में रहें अर्थात् सिर दायें या बायें झुका हुआ न रहे। शरीर को शिथिल बनाकर सभी शारीरिक हलचल रोक देते है। इसके बाद शाम के प्रति सजगता बनाए रखते हुए इसे लयवाद एवं शिथिल होने देते है शरीर के उन अंगों के प्रति सजगता बनाए रखते है जो जमीन का स्पर्श का रहे हो। यदि अभ्यास के दौरान मन में कोई विचार आते हैं तो उन्हें दबाने का प्रयास नहीं करना चाहिए, बल्कि अपनी चेतना को शरीर के उन विभिन्न अंगों पर घुमाते हुए उन्हें शिथिल बनाते है l  जिससे मानसिक थकन आसनी से दूर हो जाती है l

उत्तराखंड फिल्म एवं संगीत जगत की सभी ख़बरों को विस्तार से देखने के लिए हिलीवुड न्यूज़ को यूट्यूब पर सब्सक्राइब करें।