उत्तरैणी की शुभकामनाओं के साथ रिलीज हुआ दक्ष कार्की का नया गीत, आवाज की हई तारीफ

0
252
उत्तरैणी की शुभकामनाओं के साथ रिलीज हुआ दक्ष कार्की का नया गीत, आवाज की हई तारीफ

कुमाउनी गायक पप्पू कार्की जिन्हें आज भी लोग उनके गीत सुनकर याद करते हैं, अपने गीतों से कुमाऊंनी गीतों को पहचान दिलाने वाले पप्पू कार्की के बाद आज उनका बेटा दक्ष कार्की उत्तराखंड संगीत जगत मे अपना नाम कमा रहा है, ‘सुन ले दगड़िया’ गीत से उत्तराखंड के हर कोने मे अपनी आवाज के लिए जाने जाने वाले चाइल्ड आर्टिस्ट दक्ष का नया गीत ‘उत्तरैणी ऐगे’ रिलीज हुआ है, गीत को लोग खूब पसंद कर रहे हैं.

यह भी पढ़ें: पलायन के दर्द को पिरोता गीत ‘दिन औंछी जांछी’ रिलीज, फूट-फूटकर रोए दर्शक

दक्ष कार्की का नया गीत उत्तरैणी ऐगे आज ही दर्शकों के बीच जारी हुआ है, इस गीत को Pappu Karki के ऑफिसियल यूट्यूब चैनल से रिलीज किया गया है, Hemant Bisht के लिखे इस गीत को दक्ष कार्की ने अपनी आवाज देकर और भी खास बनाया, गीत को बेहतरीन संगीत देने के साथ कंपोजिशन का कार्य Chandan ने संभाला, जिसकी रिदम तैयार करने के साथ मिक्सिंग मास्टरिंग सागर शर्मा ने की है.

यह भी पढ़ें: फौजी ललित मोहन जोशी की आवाज में ‘मेर पहाड़ तेरी याद’ गीत बटोरे जा रहा वाहवाही

(उत्तरैणी) इस शब्द से आप में से कई लोग विदित नहीं होंगे, आपकी जानकारी के लिए बता दें कि इसका तात्पर्य मंकर सक्रांति से है, बता दें उत्‍तराखंड के पहाड़ों में मकर सक्रांति के त्‍योहार की रौनक ही कुछ और होती है, उत्‍तराखंड के कुमाऊं क्षेत्र में इसे ‘उत्‍तरायणी’ और ‘घुघती सज्ञान’ के नाम से भी जाना जाता है, जबकि गढ़वाल में ‘खिचड़ी सक्रांति’ कहा जाता है, इस दिन यहां जगह-जगह मेलों का आयोजन होता है, कुमाऊं में कौवे को घुघुत ख‍िलाने का रिवाज है, इसके लिए कौवे को ‘काले कौवा काले, घुघती माला खाले’ गाकर बुलाया जाता है, बच्‍चे घुघुत की माला बनाकर और उसे गले में डालकर गांव भर में घूमते-फिरते हैं, इस दिन की खूबसूरती को दर्शाता यह पूरा गीत है, वीडियो मे दक्ष अपने गीत का आनंद लेते दिखे, दर्शकों से इस गीत को लेकर अच्छी प्रतिक्रियाएं मिल रही है, हर कोई दक्ष की आवाज की तारीफ कर रहे हैं.

यहां देखें पूरा गीत:

हिलीवुड न्यूज़ की ताजातरीन जानकारियों के लिए जुड़े रहिए साथ ही वीडियो रिव्यु एवं अन्य जानकारी यूट्यूब पर भी देखिए