दिल्ली में होगा फैसला, उत्तराखंड क्रिकेट के भविष्य का

0
206

उत्तराखंड में क्रिकेट को बढ़ावा देने के लिए उत्तराखंड क्रिकेट का भविष्य अगले कुछ दिनों में दिल्ली में तय होगा। बीसीसीआई की संबद्धता समिति के सदस्यों ने राज्य की चारों क्रिकेट संघों के पदाधिकारियों से मुलाकात के बाद अपनी रिपोर्ट तैयार कर ली है। यह रिपोर्ट कमेटी ऑफ एडमिनिस्ट्रेटर (सीओए) को सौंपी जाएगी, जिसके आधार पर राज्य में क्रिकेट संचालन की योजना तैयार होगी।

25 साल बाद सनी देओल ने किया अपने साथ हुए धोखे का खुलासा, 16 साल तक बंद रही शाहरुख़ से बातचीत

मंगलवार को दूसरे दिन संबद्धता समिति के सदस्य बीसीसीआई जीएम क्रिकेट ऐसोसिएशन सबा करीम और पूर्व क्रिकेट अंशुमान गायकवाड़ ने उत्तराखंड क्रिकेट एसोसिएशन (यूसीए), क्रिकेट एसोसिएशन ऑफ उत्तराखंड (सीएयू) और यूनाइटेड क्रिकेट एसोसिएशन (यूसीए) के पदाधिकारियों से मुलाकात की। प्रेमनगर स्थित होटल में सुबह सबसे पहले उत्तराखंड क्रिकेट एसोसिएशन के निदेशक दिव्य नौटियाल और रामशरण नौटियाल ने अपना प्रस्तुतिकरण दिया। उन्होंने क्रिकेट संघ का विस्तृत ब्योरा देने के साथ ही उपलब्ध संसाधनों, खेल सुविधाओं, संघ पदाधिकारियों, अब तक किए गए खेल आयोजनों और भविष्य की योजनाओं के संबंध में विस्तार से जानकारी ली।

गौर से देखिये इन तस्वीरों को, कितने बदले हैं 14 साल में ‘शक्तिमान ‘, ‘किलविश ‘, ‘डॉ जैकॉल ‘

इसके बाद क्रिकेट एसोसिएशन ऑफ उत्तराखंड और यूनाइटेड क्रिकेट एसोसिएशन के पदाधिकारियों ने अपना पक्ष रखा। यूसीए सचिव संजय गुसांई ने बताया कि वह पहले ही सीएयू के साथ मर्ज कर चुके हैं। सीएयू अध्यक्ष हीरा सिंह बिष्ट और सचिव पीसी वर्मा ने बताया कि वह राज्य में पिछले कई वर्षों से क्रिकेट गतिविधियां संचालित कर रहे हैं।

भतीजे के जन्मदिन पर सलमान खान ने किया ये स्‍टंट, वीडियो वायरल

उनकी एसोसिएशन खुद क्रिकेट गतिविधियां आयोजित करने के साथ ही अन्य आयोजकों को संबद्धता भी देती है, जिससे अधिक से अधिक क्रिकेटरों को खेलने का मौका मिल सके। मुलाकात करने वालों में सीएयू के प्रभारी सचिव महिम वर्मा, यूनाइटेड क्रिकेट एसोसिएशन के अवनीश वर्मा भी शामिल रहे।

टॉप 5 उत्तराखंडी गीत “सोंग्स ऑफ़ द वीक”

Facebook Comments