आज से होगा चारधाम यात्रा का आगाज, श्रद्धालुओं को दर्शन के लिए मिलेंगे टोकन

0

आज शनिवार 22 अप्रैल को अक्षय तृतीय के अवसर पर  गंगोत्री-यमुनोत्री के कपाट ग्रीष्मकाल के लिए श्रद्धालुओं के दर्शनार्थ खोल दिए जाएंगे। गंगोत्री के कपाट दोपहर 12:13 मिनट पर और यमुनोत्री के कपाट 12:41 मिनट पर खुलेंगे। इसी के साथ ही आज से चारधाम यात्रा का भी आगाज हो जायेगा।

यह भी पढ़े : जानिए क्यों पहाड़ों में शुभ अवसरों पर गाए जाते हैं मांगल गीत, जिनके बिना अधूरे हैं मांगलिक कार्य

इस बार चारधाम यात्रा के लिए शासन-प्रशासन ने चाकचौबंद व्यवस्थाएं करने का दावा किया है। इसके तहत इस बार धामों में दर्शन के लिए इस बार श्रद्धालुओं को टोकन दिए जायेंगे। दरअसल, बदरीनाथ, केदारनाथ, गंगोत्री व यमुनोत्री की यात्रा करने वाले श्रद्धालुओं को धाम में पहुंचने पर दर्शन के लिए टोकन मिलेंगे। जिसमें श्रद्धालुओं को दर्शन करने का समय दिया जाएगा। इससे यात्रियों को लंबी लाइन में खड़ा नहीं होना पड़ेगा। पहली बार पर्यटन विभाग की ओर से श्रद्धालुओं की सुविधा व भीड़ नियंत्रण के लिए चारों धामों में कतार प्रबंधन व्यवस्था को लागू किया जा रहा है l

यह भी पढ़े : गढ़वाली ‘पधनी जी’ फीचर फिल्म का टीज़र लॉन्च, जानिए एक नजर में सब

चारधाम यात्रा पर आने वाले तीर्थयात्रियों के पंजीकरण का सत्यापन चार स्थानों पर किया जाएगा। यात्रा के लिए श्रद्धालुओं का पंजीकरण अनिवार्य है। कोई भी श्रद्धालु बिना दर्शन के वापस न लौटे, इसके लिए पर्यटन विभाग ने ऑफलाइन पंजीकरण की अतिरिक्त व्यवस्था की है। ऋषिकेश में यात्रियों की भीड़ को देखते हुए पंजीकरण के चार काउंटर बढ़ाए गए हैं। पर्यटन विभाग के संयुक्त निदेशक योगेंद्र गंगवार ने बताया कि केदारनाथ धाम जाने वाले श्रद्धालुओं के पंजीकरण का सत्यापन सोनप्रयाग में किया जाएगा। जबकि बदरीनाथ के लिए पांडुकेश्वर, यमुनोत्री के लिए बड़कोट, गंगोत्री धाम जाने वाले यात्रियों के पंजीकरण का सत्यापन हिना में होगा l

हिलीवुड जगत स जुड़ी अन्य खबरों के लिए बने रहे हमारे यूट्यूब चैनल के साथ

Exit mobile version