Kshitij Ravi Prasad ने लगाए NCB पर गंभीर आरोप, जबरदस्ती फर्जी बयानों पर साइन कराये

0
104
Kshitij Ravi Prasad ने लगाए NCB पर गंभीर आरोप, जबरदस्ती फर्जी बयानों पर साइन कराये
file photo

सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) की मौत के मामले में जहाँ एक तरफ सीबीआई अपनी जांच में लगी है वही दूसरी तरफ ड्रग्स की बात सामने आने के बाद नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (NCB) भी लगातार एक के बाद एक बॉलीवुड की कई बड़ी हस्तियों पर शिकंजा कस रही है। अब एनसीबी ने जहां फिल्म प्रोड्यूसर क्षितिज रवि प्रसाद (Kshitij Ravi Prasad) से पूछताछ की वहीं क्षितिज ने अब जांच एजेंसी पर गंभीर आरोप लगाए हैं. जिसके बाद से मीडिया में खलबली मच गयी है।

Kshitij Ravi Prasad  ने लगाए NCB पर गंभीर आरोप, जबरदस्ती फर्जी बयानों पर साइन कराये
Source: Kshitij Ravi Prasad, Instagram

यह भी पढ़ें: Deepika Padukone गोवा से आज पहुंचेगी मुंबई, NCB द्वारा कल होगी पूछताछ।

दरअसल, फिल्म प्रोड्यूसर क्षितिज रवि प्रसाद (Kshitij Ravi Prasad) के वकील सतीश मानशिंदे (Satish Maneshinde) ने बॉम्बे हाईकोर्ट में बताया है कि एनसीबी के अधिकारियों ने जबरदस्ती प्रोड्यूसर क्षितिज को ब्लैकमेल और परेशान कर फर्जी बयानों पर साइन कराये हैं. वकील ने आगे कहा कि क्षितिज प्रसाद से पूछताछ के दौरान करण जौहर और उनके टॉप एक्ज़ीक्यूटिव्स को फंसाने के लिए जोर-जबरदस्ती की गई है. साथ ही जांच एजेंसी ने क्षितिज से यह भी कहा कि अगर वो करण जौहर, सोमेल मिश्रा, राखी, अपूर्वा, नीरज या राहिल का नाम लेंगे तो उन्हें छोड़ दिया जायेगा.

यह भी पढ़ें: फिल्म सिटी पर भंडारी की सीएम योगी को बधाई ! त्रिवेंद्र सरकार पर साधा निशाना !

बता दें कि एनसीबी ने शनिवार को क्षितिज रवि प्रसाद (Kshitij Ravi Prasad) को गिरफ्तार किया था. एनसीबी के सूत्रों के अनुसार जब क्षितिज के घर पर छापा मारा गया तो वहां से एनसीबी ने गांजा बरामद किया. हालांकि क्षितिज के वकील कहना है कि जांच एजेंसी ने उन पर दबाव बनाया है साथ ही क्षितिज ने जांच टीम के बहुत दबाव बनाने पर भी उनकी बात नहीं मानी क्योंकि वह निजी तौर पर किसी को भी नहीं जानते हैं. क्षितिज के वकील सतीश मानशिंदे ने एनसीबी के जोनल डायरेक्टर समीर वानखेड़े पर भी कई आरोप लगाते हुए कहा कि जांच के दौरान समीर वानखेड़े ने क्षितिज प्रसाद को धमकाया कि अगर वे स्टेटमेंट पर साइन नहीं करेंगे तो उन्हें न उनके परिवार से बात करने दी जाएगी, न ही उनके वकील से.

Facebook Comments