निर्भया केस में फांसी से बौखलाये ए.पी. सिंह, निर्भया के चरित्र पर उठाई उंगली

0
251

निर्भया केस में फांसी से बौखलाये ए.पी. सिंह, निर्भया के चरित्र पर उठाई उंगली

निर्भया (Nirbhaya) के दोषियों को फांसी होने के बाद जहां पूरे देश में खुशियों का माहौल है हर कोई कोर्ट के इस निर्णय की सराहना कर रहा हैं वहीं दूसरी तरफ दोषियों के वकील ए.पी सिंह कोर्ट के इस निर्णय से काफी नाखुश हैं। उन्होंने निर्भया केस (Nirbhaya Case) मामले में दोषियों को बचाने के लिए हर कोर्ट का दरवाजा खटखटाया लेकिन निर्भया के दोषियों को फांसी से रोकने के लिए कोर्ट में कई बार उन्होंने याचिकाऐं दायर की, हालांकि ए.पी. सिंह कई बार फांसी की सजा की तारिख को टालने में भी सफल रहे थे लेकिन इस बार ए.पी. सिंह की बिल्कुल नहीं चली यहां तक कि कोर्ट ने उनको बोल दिया कि आप हमारा और अपना टाइम यूं बर्बाद न कीजिए अब आपके मुवक्किल का भगवान से मिलने का टाइम आ चुका है पर जब आखिरकार कोर्ट ने निर्भया के दोषियों को फांसी पर लटकाया, तो दोषियों के वकील ए.पी सिंह गुस्से से बौंखला उठे, यहां तक वकील ने निर्भया के चरित्र पर उंगली उठाते हुए कहा कि किसी ने ये नहीं पूछा कि उस रात निर्भया आधी रात को बाहर क्या कर रही थी, निर्भया की माॅ को क्यों नहीं पता था कि निर्भया कहा है किसके साथ है और किस हालात में है, इन शब्दों को सुनते ही लोग दोषियों के वकील ए.पी. सिंह पर भड़क उठे।

जब ऋषिकेश के AIIMs अस्पताल से भागा कोरोना वायरस का संदिग्ध मरीज

इसी बीच निर्भया के परिवार की वकील सीमा खुशवाह ने कहा कि निर्भया को इंसाफ मिला इस बात की संतुष्टि है लेकिन निर्भया जैसी और भी बेटियां हैं जिनको अभी तक इंसाफ नहीं मिला वो भी इंतजार कर रही हैं। साथ ही उन्होंने ए.पी. सिंह के बारे में कहा इस तरह के जो वकील हैं उनका ये व्यक्तित्व बिल्कुल भी इस प्रोफेशन में एक्सेप्टेबल नहीं है। कोर्ट ने पहले भी उन पर एफ.आई.आर. दर्ज की थी और कोर्ट ने भी उनके खिलाक कार्रवाही करने के लिए दिल्ली बार काउंसिल को बोला था।

कोरोना वायरस को लेकर प्रधानमंत्री ने दिया ये संदेश

लखनऊ में कोरोना वायरस का इलाज कर रहे डाॅक्टर को हुआ कोरोना

कोरोना से देश में तीसरी मौत, पढ़े देशभर की कोरोना (कोविड 19) से जुडी़ खबरें

Facebook Comments