उत्तराखडं की बेटी चलायेगी ट्रेन, बनाया रिकाॅर्ड आप भी दें बधाई

0
273

Anjali Shah Loco Pilot

उत्तराखडं की बेटी चलायेगी ट्रेन, बनाया रिकाॅर्ड आप भी दें बधाई

वादियों के प्रदेश उत्तराखडं में प्रतिभा की कोई कमी नहीं है प्रदेश की बेटियों ने अलग अलग क्षेत्रों में अपने हुनर का जलवा दिखाया है, कहते हैं ना अगर मन में किसी लक्ष्य को पाने की इच्छा शक्ति हो और पूरी मेहनत के साथ उस पर लग जायें तो सारी कायनात आपके साथ खड़ी हो जाती है। ऐसा ही कुछ कमाल दिखाया है उत्तराखडं के एक छोटे से गांव रेखड़ी खाल की लड़की अंजली शाह ने जो अब उत्तराखण्ड से पहली महिला ट्रेन चालक बन चुकी हैं।

सोशल मीडिया या खतरा आज के युवाओं के लिए

अंजली शाह ने बचपन में जो ट्रेन अपने हाथों से खिलौने के रूप में चलायी थी वही उनका सपना बन गया और आज अंजली ने अपना सपना भी सच कर दिया। अंजली शाह असिस्टैंट लोको पाॅयलेट बन इतिहास रच चुकी हैं। बता दें कि अंजली उत्तराखण्ड से पहली महिला ट्रेन चालक हैं। 6 महीने की ट्रेनिंग के बाद अंजली को हरिद्वार ऋषिकेश में बतौर असिस्टैंट लोको पाॅयलेट नियुक्त किया गया है। अंजली अभी कुल 23 वर्ष की हैं और बतौर ट्रेनी मुख्य चालक की निगरानी में ट्रेन चला रही हैं। रेलवे एक ऐसा क्षेत्र है जहां हमेशा से पुरूषों का दबदबा रहा है ऐसे में लोगों ने कई बार अंजली का मजाक भी बनाया और उन्हें कोई दूसरा काम करने की सलाह भी दी, पर अंजली ने मन बना लिया था कि कोई कुछ भी कहे बनना तो मुझे लोको पाॅयलेट ही है। जिसका नतीजा अंजली आज असिस्टैंट लोको पाॅयलेट हैं और बहुत जल्द वो लोको पाॅयलेट भी बन जायेंगी।

Anjali Shah Loco Pilot

26 जनवरी को रिपब्लिक डे मनाया जाएगा धूम धाम से

अंजली के ट्रेनर मुख्य ट्रेन चालक बृजपाल ने मीडिया को बताया कि अंजली को जो भी सीखाओ वह बहुत जल्द आसानी से सीख जाती है। ट्रेन चलाना इतना आसान काम नहीं है क्यों कि हजारों लोग ट्रेन चालक पर भरोसा करते हैं एक लापरवाही हजारों लोगों की जान पर भारी पड़ सकती है इसीलिए लोको पाॅयलेट की नियुक्ति से पहले कठोर ट्रेनिंग से गुजरना पड़ता है।

सैफ ने बताई अमृता से हुए तलाक को लेकर खास बात

हिलीवुड न्यूज अंजली शाह के जज्बे को सलाम करता है और भविष्य की हार्दिक शुभ कामनाऐं देता है, आप भी अंजली को शुभकामनाएं कमैंट बाॅक्स में दे सकते हैं।

उत्तराखंडी गीतों को यहां से सुनें और सब्सक्राइब करें

Facebook Comments