अमित सागर ने गाई गणेश विरान की गढ़वाली गजल,पहाड़ी राग को खूब पसंद कर रहे दर्शक।

0
152

उत्तराखंड संगीत जगत में अमित सागर नए नए प्रयोगों के लिए जाने जाते हैं,चैत्वाली आछरी जागर को दुनिया के सामने लाने वाले अमित सागर ने गढ़वाली गीतों के साथ एक और प्रयोग किया है,लोकगायक सागर ने गणेश विरान द्वारा रचित गढ़वाली गजल ‘ढलकी आंख्यों मा’ को गाया है इसका वीडियो यूट्यूब पर रिलीज़ हो चुका है। 

amit-sagar-sang-ganesh-virans-garhwali-ghazal-the-audience-loved-the-hill-raga-very-much

 

यह भी पढ़ें : उत्तराखंड के पारम्परिक विवाह गीतों को पांडवाज ने दिया नया स्वरुप,वरना भूल जाते पहाड़ के लोग।

ढलकी आंख्यों मा गीत को वीडियो रूप में रिलीज़ किया गया है,इसमें कुशाग्र नौटियाल और आयुषी रमोला मुख्य भूमिका में रही,यूट्यूब की दुनिया में ये वीडियो गीत व्यूज बटोरने में इतना सफल तो नहीं रहा लेकिन संगीत को समझने वाले दर्शकों ने अमित सागर के इस प्रयास की जमकर सराहना की है,इस गजल को कुशाग्र नौटियाल ने संगीत से भी सजाया है।

यह भी पढ़ें : सूर्यपाल श्रीवाण के गीत मालुरा में खूब जमी अजय माही की जोड़ी,डांस मूव्स भी कमाल।

‘ढलकी आंख्यों मा बात लुकिं च हे लो’ बहुत ही खूबसूरत गढ़वाली गजल है इसे गणेश विरान सरीके गीतकार ने लिखे हैं जिन्होंने कई फिल्मों को निर्देशित भी किया है और कई फिल्मों का पटकथा लेखन का काम भी किया है,विरान जी की कई रचनाएं अपने आप में अनमोल हैं।अमित सागर ने इन्हीं की खूबसूरत रचना को पहाड़ी राग में सजाकर गजल का रूप दिया है।

यह भी पढ़ें : युवाओं के दिलों की धड़कन व स्वरकोकिला की जुगलबंदी के फैंस कायल,रिलीज़ हुआ नया गीत।

गीत को खूबसूरत प्रेम कहानी के रूप में दिखाया गया है,इसमें कुशाग्र व आयुषी की खूबसूरत जोड़ी नजर आई,दोनों की केमिस्ट्री स्क्रीन पर बहुत ही शानदार नजर आ रही है,और स्क्रीन पर पहली नजर के प्रेम को बखूबी और शानदार फिल्मांकन के साथ दर्शाया गया है,वीडियो की कहानी बहुत ही रोचक है जहाँ अमित सागर अपनी टीम के साथ गजल को गा रहे हैं वहीँ कुशाग्र का आगमन और पहाड़ी परिधानों से सज्जित आयुषी की झलक बहुत ही शानदार नजर आई।दोनों ही कलाकारों अपने अभिनय से दर्शकों का दिल जीतने में सफलता हासिल की है।वीडियो का अंत काफी आकर्षक है और अंत में  ‘फिर मिल्ला कभी’ से ये अंदाजा भी लगाया जा सकता है कि इसकी कहानी अभी जारी है।वीडियो का फिल्मांकन गौरव बसनेत व अक्षत घिल्डियाल ने किया है,अमित सागर के साथ टेबल पर रोहित चावला ने साथ दिया है।

यह भी पढ़ें : संकल्प खेतवाल दे रहे पहाड़ी गीतों को नया रंग,झंवरी वीडियो में दिखी खूबसूरत लव स्टोरी।

ढलकी आंख्यों मा गजल को अमित सागर कई मंचों पर भी गा चुके हैं और उनके इस प्रयास की जमकर सराहना होती है,इस वीडियो में भी अमित सागर अपने गायन का भरपूर आनंद लेते नजर आ रहे हैं।

आप भी जरूर देखें उत्तराखंड संगीत जगत में अमित सागर के इस नवीनतम प्रयास को।i u

उत्तराखंड फिल्म एवं संगीत जगत की सभी ख़बरों को विस्तार से देखने के लिए हिलीवुड न्यूज़ को यूट्यूब पर सब्सक्राइब करें। 

 

 

 

Facebook Comments