आखिर क्यों उत्तराखंड संगीत जगत से दूर है मंगलेश डंगवाल ?

0
191
After all, why Uttarakhand is away from the world of music, Manglesh Dangwal?
File Photo

उत्तराखण्डी लोक गायक मंगलेश डंगवाल पिछले 2-3 सालों से उत्तराखंड संगीत जगत से दूर है। दर्शक आज भी यूट्यूब में उनका बड़ी बेसब्री से इंतज़ार करते है।

यह भी पढ़े : लॉक डाउन में भी फैंस का खूब मनोरंजन कर रही हैं उत्तराखण्ड की लोक गायिका संगीता ढौंडियाल

बदलते वक़्त के साथ सब कुछ बदल रहा है। यहाँ तक कि पिछले कुछ सालों में उत्तराखण्ड संगीत जगत में भी  काफी बदलाव देखने को मिला है। एक ज़माना था जब उत्तराखंडी गीत सिर्फ उत्तराखण्ड में ही सिमट के रह जाता था। लेकिन आज उत्तराखंडी गीतों की गूँज न सिर्फ देश बल्कि विदेशों में भी सुनने को मिलती है। जिसका श्रेय कही ना कही डिजिटल दुनिया को जाता है। आजकल डिजिटल प्लेटफार्म के चलते हर कोई उत्तराखंड संगीत जगत में आना चाहता है।  उत्तराखंड संगीत जगत के बहुत से कलाकार जिनकी किस्मत डिजिटल प्लेटफार्म आने के बाद ही बदली है।

मंगलेश डंगवाल
Image Source : Social Media

डिजिटल की दुनिया में सबसे लोकप्रिय प्लेटफार्म यूट्यूब है।  लोग गीत रिकॉर्ड करके यूट्यूब में अपलोड कर रहे है और रातों रात फेमस बनने के सपने देख रहे है। उत्तराखण्ड संगीत जगत का सफर रामा कैसेट्स से लेकर यूट्यूब तक काफी बेमिसाल रहा है। उत्तराखण्डी संगीत जगत के प्रसिद्ध लोक कलाकार जिन्होने अपने संगीत की शुरुआत रामा कैसेट्स से की थी। और अब यूट्यूब की दुनिया में भी अपना जलवा बिखेर रहे है।

यह भी पढ़े : बेहद 2 टीवी सीरियल के ऐक्‍टर श‍िव‍िन नारंग हुए घायल, अस्‍पताल में कराया भर्ती

उत्तराखण्ड के प्रसिद्ध गढ़वाली कलाकार जैसे ,श्री नरेंद्र सिंह नेगी ,मीना राणा ,प्रीतम बर्तवाण ,मंगलेश डंगवाल ,गजेन्द्र राणा ,संगीता डोंडियल आदि है। जिहोने  अपनी आवाज़ से दर्शकों का खूब मनोरंजन किया है। यूट्यूब की दुनिया में भी ये सब कलाकार निरंतर उत्तराखंड संगीत जगत के साथ जुड़े है। दर्शक आज भी इनके गीतों का बड़ी बेसब्री से इंतज़ार करते है। लेकिन  कुछ ऐसे कलाकार जो बदलते वक़्त के साथ अचानक से उत्तराखण्ड संगीत जगत से दूर हो गए है। उनमे सबसे पहला नाम मंगलेश डंगवाल का आता है। मंगलेश डंगवाल पिछले 2 -3 सालों से उत्तराखण्ड संगीत जगत से दूर है।

दर्शक आज भी इनके गीतों  का बड़ी बेसब्री से इंतज़ार करते है। लेकिन कोई नहीं जानता कि मंगलेश डंगवाल ने अचानक क्यों उत्तराखंड संगीत जगत से मुँह मोड़ लिया है ? क्या मंगलेश डंगवाल ने हमेशा के लिये उत्तराखंड संगीत जगत को छोड़ दिया है।  आखिर ऐसी क्या वजह थी जिसके चलते मंगलेश डंगवाल  अचानक से गायब हो गए है ?क्या वो फिर से उत्तराखण्ड संगीत में फिर से अपनी वापसी करेंगे ?खैर इन सब सवालों का जवाब मंगलेश डंगवाल के ही पास है।

यह भी पढ़े : उत्तराखण्डी गीत “ओ मेरी बांद ” को सोशल मीडिया में मिला इतना प्यार कि पहुँच गया 1 मिलियन के पार

मंगलेश डंगवाल का अचानक से यूँ गायब हो जाना दर्शकों को बिलकुल भी पसंद नहीं आया है। दर्शक आज भी यूट्यूब में उनको तलाशते है इस उम्मीद में की शायद उनका  कोई नया गीत आया हो।  मंगलेश डंगवाल सोशल मीडिया में भी काफी कम एक्टिव रहते है।  सुनने में आया था कि तकरीबन 5 -6 महीने पहले मंगलेश डंगवाल अपने होमटाउन देहरादून में थे। लेकिन अब उनके बारे में कोई खबर नहीं है। सोशल मीडिया के अलावा मंगलेश लोगों से भी काफी कम मिलते -जुलते है।

यह भी पढ़े :  टिक टॉक में धूम मचा रहा है ,ये उत्तराखंडी गीत

आपको बता दे मंगलेश डंगवाल ने उत्तराखण्ड संगीत जगत को एक से बढ़कर एक सुपरहिट गीत दिए  है। इनके आवाज़ में वो रस्याण  है। अगर कोई कोसों दूर खड़ा इनके गीत को सुन ले तो वही पर नाचना शुरू कर देता है। मंगलेश डंगवाल को माया बांद  और सिल्की बांद गीत से काफी लोकप्रियता मिली थी। मंगलेश ने रामा कैसट्स के ज़माने में काफी धूम मचा के रखी थी  लेकिन आज उत्तराखण्ड संगीत जगत कहीं ना कहीं इनके बगैर अधूरा सा लग रहा है।

आशा करते है कि उत्तराखडं के लोक गायक मंगलेश डंगवाल बहुत जल्द उत्तराखंड संगीत जगत में वापसी करेंगे।

 

Facebook Comments