एक्ट्रेस सारा अली खान न्यूयोर्क में रहकर करती थी ये काम, ऋषि कपूर ने की तारीफ

0
233

बॉलीवुड (Bollywood) एक्ट्रेस सारा अली खान (Sara Ali Khan) सुर्खियों में रहती हैं. फिल्म केदारनाथ से डेब्यू करने वाली सारा ने रणवीर सिंह के साथ फिल्म ‘सिंबा’ में और फिर फिल्म ‘लव आजकल 2’ में नजर आईं. इन तीनों फिल्मों में उनकी एक्टिंग लोगों को पसंद आई. सारा अक्सर सोशल मीडिया (Social Media) पर अपने चुलबुले अंदाज के साथ स्पाट होती रहती हैं. वैसे तो वह इन दिनों सेल्फ आइसोलेशन में हैं, लेकिन लगातार सोशल मीडिया पर एक्टिव नजर आ रही हैं. लेकिन क्या आप जानते है कि रॉयल परिवार की इस लाडली की एक आदत ऐसी है, जिसके एक्टर ऋषि कपूर (Rishi Kapoor ) भी कायल हो गए.

कोरोना से लड़ने के लिये जुबिन नौटियाल भी ने भी मदद का हाथ बढाया है – दिये पी एम केयर फण्ड में रुपये

आपने अक्सर देखा होगा कि सारा अली खान एयरपोर्ट पर अपना सामान खुद उठाती हैं. एक्टर ऋषि कपूर ने भी ट्वीट कर सारा की इस आदत की तारीफ की थी. ऋषि कपूर ने ट्वीट में उनकी तारीफ करते हुए लिखा था कि जिस तरह सारा अली खान अपना सामान खुद लेकर आ रही हैं, बॉलीवुड के दूसरे स्टार्स को भी इनसे सीखना चाहिए. सारा अली खान ने इस बारे में बात करते हुए कहा कि अगर मैं एयरपोर्ट पर सामान उठाती हूं तो इस तरह की खबरें लाइमलाइट में जरूर आ जाती हैं, जबकि हकीकत तो ये है कि ये सब बातें मेरे लिए बहुत नॉर्मल है क्योंकि मेरी बचपन से ही परवरिश बहुत ही नॉर्मल तरीके और सादगी से हुई है.

शाहरुख खान की बेटी सुहाना खान आजकल घर बैठे सीख रही बैली डांस, वायरल हुई तस्वीरें

सारा ने बताया कि जब मैं न्यूयॉर्क में पढ़ाई कर रही थी. तब मैं चार मंजिल तक अपना सब सामान सीढ़ियों से लेकर जाती थी. असल में न्यूयॉर्क में मैं जिस बिल्डिंग में रहती थी. उस बिल्डिंग में लिफ़्ट नहीं थी और मेरा अपार्टमेंट चार मंजिल पर था. उस वक़्त मैं बड़े-बड़े सूटकेस लेकर सीढ़ियों से चार मंजिल तक सामान लेकर जाती थी. उन्होंने कहा कि मेरे लिए यह बात बहुत नॉर्मल है लेकिन ऋषि सर ने मेरी तारीफ की और मेरे बारे में ट्विटर पर लिखा ,यह पढ़कर वाकई मैं बहुत ख़ुश हो गई थी क्योंकि वह इतने सीनियर हैं और उनका लिखना मेरे लिए बहुत बड़ी बात है.

जाने माने प्रोड्यूसर करीम मोरानी की बेटी शाजा कोरोना पॉजिटिव, पढ़े ये रिपोर्ट

सारा ने बताया कि लोगों को लगता है कि मैं रॉयल परिवार से हूं, जबकि हकीकत में ऐसा कुछ नहीं है मेरी मां ने मेरी परवरिश बहुत ही सादे परिवेश में, दिन-दुनिया के तौर तरीके सीखा कर की है और मुझे बचपन से ही अपना काम ख़ुद करने की आदत डाली गई है.

Facebook Comments