H3N2 इन्फ्लूएंजा वायरस को हल्के में ना लें, हमारे बताए उपायों पर अमल कर खुद को यूं सुरक्षित करें

0
110
H3N2 इन्फ्लूएंजा वायरस को हलके में ना लें, हमारे बताए उपायों पर अमल कर खुद को यूं सुरक्षित करें

करोना के तांडव के बाद अब देश में लगातार फैल रही एच3एन2 इन्फ्लूएंजा के केस सामने आने से लोगों में एक बार फिर डर का माहौल बना हुआ है, मामलों में बढ़ोत्तरी को देखते हुए लगातार स्वास्थ्य विभाग हरकत में है. 

यह भी पढ़ें: Oscars 2023 में भारतीय फिल्मों का दिखा जलवा, रचा इतिहास

इस वायरस में कोविड-19 जैसे लक्षण देखे गए हैं जो सभी उम्र के लोगों पर असर डालता है, कोरोना का वो मंजर सभी लोगों के आंखों से अभी गया भी नही था कि अब इस वायरस ने लोगों की नींद उढ़ा दी है, बता दें H3N2, इन्फ्लूएंजा वायरस का ही एक वेरिएंट है, एच3एन2 वायरस मनुष्यों को साल 1968 से परेशान कर रहा है और तब से अब तक इसमें काफी बदलाव भी आ चुके हैं, खासतौर से फ्लू के मौसम में इस वायरस का कहर ज्यादा बढ़ जाता है, हाई -रिस्क ग्रुप जिसमें उम्रदराज लोग, छोटे बच्चे और वह लोग आते हैं जो पहले से किसी गंभीर बीमारी से जूझ रहे हैं, उनके लिए खतरा बढ़ जाता है.

यह भी पढ़ें: 16 से मार्च से शुरू होंगी उत्तराखंड बोर्ड की परीक्षाएं, पढ़े पूरी रिपोर्ट

इस वायरस के लक्षणों के बात करें तो इसमें मुख्यत: बुखार, सर्दी, खांसी वा गले में दर्द, शरीर में दर्द और दस्त जैसी परेशानी अभी सामने आई है, वायु प्रदूषण की वजह से एच3एन2 स्ट्रेन के लक्षण और भी खतरनाक हो जाते हैं, जो आसनी से किसी दूसरे व्यक्ति में फैल सकता है, इस वायरस से बचने के लिए हमे करोना जैसीं रोकथाम करनी होगी, जिससे हम दूसरे मरीज से खुद को सुरक्षित रख सकें,मास्क पहनें और भीड़भाड़ वाली जगहों पर न जाएं, छींकते और खांसते वक्त मुंह को ढक लें,आंखों और नाक को न छुएं, पानी का सेवन खूब करें.

उत्तराखंड फिल्म एवं संगीत जगत की सभी ख़बरों को विस्तार से देखने के लिए हिलीवुड न्यूज़ को यूट्यूब पर सब्सक्राइब करें।