जागर सम्राट का नया जागर रिलीज़,गुरु चौरंगीनाथ कथा का सुन्दर वर्णन।

0
1234

उत्तराखंड के प्रसिद्ध लोकगायक पदमश्री से सुशोभित जागर सम्राट प्रीतम भरतवाण जब भी कोई नई रचना लेकर आते हैं श्रोता बड़े प्रेम से इस रचना का आनंद लेते हैं,लोकसंगीत के क्षेत्र में इनका योगदान मील का पत्थर है,यहाँ के जागर,पंवाड़ों को देश दुनिया में अलग पहचान मिली और देवभूमि की लोकसंस्कृति की महक पूरी दुनिया में फैली,जागर शैली पर आधारित एक और गीत प्रीतम भरतवाण के सुरों में रिलीज़ हुआ है।

34695-2jagar-samrats-new-jagar-release-beautiful-description-of-guru-chauranginath-katha

पढ़ें यह खबर: खैरी का दिन फिल्म से होली गीत रिलीज़,आपको भी होली की बधाई।

रज्जी फिल्मस के बैनर तले जागर सम्राट प्रीतम भरतवाण का नया जागर “चौरंगीनाथ कथा” रिलीज़ हो गया है,गीत सुनने से पहले अपने आसपास की जगह को खाली कर दें क्योंकि ये धुन आपको जमकर नचाने वाली है,ढोल दमाऊं की थाप और जागर सम्राट की आवाज अलग ही जादू बिखेर रही है।जय कृष्ण बसलियाल की पुस्तक “दादा जी का नाग”से चौरंगीनाथ कथा को लिया गया है,जागर सम्राट ने इस कथा को जागर शैली में तैयार किया है,रणजीत सिंह ने इसे संगीत दिया है।

पढ़ें यह खबर: मंजू नौटियाल और पंकज की आवाज में छाया यह गाना, एक ही दिन में हजारों बार देखा गया वीडियो

भारत में पूर्व से ही गुरु प्रथा का काफी प्रचलन है,इस धरती ने कई गुरुओं को जन्म दिया जो कई सिद्धियों के ज्ञाता थे,नवनाथों में गुरु चौरंगीनाथ का नाम लिया जाता है ये गुरु गोरखनाथ के शिष्य थे।चौरंगीनाथ का मंदिर उत्तरकाशी में है और कहा जाता है कि चौरंगीनाथ देव तंत्र मन्त्र के ज्ञाता थे,और यहाँ हर तीन वर्ष में मेला लगता है।

पढ़ें यह खबर: WPL तो आईपीएल के रिकॉर्ड तोड़ रहा है,क्रिकेट फैंस का मन गया सुपर सन्डे।

जागर सम्राट अपने जागरों से उत्तराखंड का संगीतमय इतिहास रच रहे हैं,किसी भी कथा का जब इतना सुन्दर वर्णन होगा तो श्रोता आसानी से अपने इतिहास को समझ जाएगा,गुरु चौरंगीनाथ की कहानी भी कुछ ऐसी ही है एक राजकुमार कैसे गुरु चौरंगीनाथ बन गया इसका वीडियो के माध्यम से सचित्र वर्णन किया गया है।

पढ़ें यह खबर: लोगों के बीच धमाका साबित हो रहा ‘कच्चा काम’ गीत, तारीफों की हुई बरसात

रज्जी फिल्म समय समय पर उत्तराखंड की लोकसंस्कृति को संजोने का उम्दा काम करता है,गुरु चौरंगीनाथ की कथा जागर सम्राट प्रीतम भरतवाण के स्वरों में सुनना मानो उनकी जागर संध्या में हाजिरी लगाना हो,रज्जी गुसाईं,राजेश नौगाई,रितिका चंदोला,अनीता सेन्डवाल,शिवांश आर्य और रिहान शर्मा ने अपने अभिनय से इस कहानी को सजीव कर दिया।

आप भी देखिए गुरु चौरंगीनाथ की ये जागर कथा:

उत्तराखंड फिल्म एवं संगीत जगत की सभी ख़बरों को विस्तार से देखने के लिए हिलीवुड न्यूज़ को यूट्यूब पर सब्सक्राइब करें।