कोरोना की बढ़ती रफ्तार को लेकर केंद्र सरकार हुई अलर्ट

0
98
कोरोना की बढ़ती रफ्तार को लेकर केंद्र सरकार हुई अलर्ट

चीन के अलावा कई देशों में कोरोना के बढ़ते मामलों से हाहाकार मचा हुआ है, देश में कोरोना के नए खतरे को देखते हुए बुधवार को केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया ने स्वास्थ्य अधिकारियों के साथ बैठक की. 

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड में स्कूली बच्चों को मिलेंगी मुफ्त किताबें, पढ़ें पूरी जानकारी

चीन के अलावा कई देशों में कोरोना के बढ़ते मामलों से हाहाकार मचा हुआ है। कई देशों में कोरोना के बढ़ते मामलों के बाद भारत में भी चिंताएं बढ़ गई हैं। हालांकि, केंद्र सरकार कोविड की स्थिति को लेकर अलर्ट मोड पर है। भारत में कोरोना को लेकर केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने बुधवार को उच्च स्तरीय समीक्षा बैठक की। बैठक में दुनियाभर में फैल रहे संक्रमण और उसके परिदृश्य को लेकर चर्चा हुई।

यह भी पढ़ें: उत्तराखँड के वो पारंपरिक व्यंजन जिन्हें खाकर आप उंगलियां चाटने पर हो जाएंगे मजबूर

चीन में कोरोना प्रतिबंधों में ढील के बाद संक्रमण तेजी से बढ़ रहा है। हालात इतने गंभीर हैं कि अस्पतालों के बाहर लंबी लाइन लग रही हैं, मरीजों को बेड नहीं मिल रहे । दवाएं भी कम पड़ रही हैं। श्मशान में भी शवों कीकेंद्र की ओर से राज्यों को गाइडलाइन जारी की गई है,इससे पहले, राज्यों को जीनोम सीक्वेंसिंग में जुटने का निर्देश दिया गया है। सभी राज्यों को केंद्र शासित प्रदेशों को चिट्ठी लिखी गई है। केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने कहा है कि कोरोना के वैरिएंट पर निगरानी रखने के लिए पाजिटिव सैंपल की पूरी जीनोम सीक्वेंसिंग पर पूरा ध्यान दिया जाए। टेस्ट-ट्रैक-ट्रीट-वैक्सीनेशन और कोविड से मुकाबले के लिए उपयुक्त व्यवहार की पांच स्तरीय रणनीति से इस महामारी पर अंकुश लगाने में सफलता मिली है। इसका नतीजा है कि कोरोना वायरस के संक्रमण को साप्ताहिक आधार पर 12 हजार मामलों तक सीमित किया जा सका है, लेकिन दुनिया में इसका खतरा पूरी तरह टला नहीं है।

 

दरअसल दुनिया के कई देशों में एक बार फिर जिस तरह से कोरोना के मामले बढ़ रहे हैं उसे देखते हुए आशंका जताई जा रही है कविड-19 की इस नई लहर के पीछे कोरोना का कोई नया वेरिएंट तो नहीं है।

हिलीवुड जगत स जुड़ी अन्य खबरों के लिए बने रहे हमारे यूट्यूब चैनल के साथ