अंकिता भंडारी हत्याकांड पर राहुल गांधी ने धामी सरकार पर लगाया सबूत मिटाने का आरोप

0
96
अंकिता भंडारी हत्याकांड पर राहुल गांधी ने धामी सरकार पर लगाया सबूत मिटाने का आरोप

उत्तराखंड के बहुचर्चित अंकिता भंडारी हत्याकांड जिसने पूरे प्रदेश को हिलाकर रखा है, हर कोई सड़कों पर उतरकर बेटी कोे इंसाफ देने की बात कह रहा है, और अब कांग्रेस नेता राहुल गांधी भी अंकिता को इंसाफ दिलाने की इस भीड़ में शामिल हो गए हैं, राहुल गांधी ने इस हत्याकांड के सबूत मिटाने के लिए धामी सरकार पर आरोप लगाए हैं.

यह भी पढ़ें: अंकिता हत्याकांड को लेकर हुआ बड़ा खुलासा, जानकर उड़ जाएंगे होश

वंतरा रिसोर्ट में कार्य करने वाली युवती Ankita Bhandari 18 सितंबर को अचानक लापता हो गई थी, वह डोभ श्रीकोट, यमकेश्वर ब्लॉक, पौड़ी की रहने वाली थी, परिजनों ने 21 सितंबर को राजस्व पुलिस में अंकिता की गुमशुदगी की शिकायत दर्ज कराई थी और बाद में उसका शव नहर में मिला था, परिजनों के हजार बिनती के बाद भी पटवारी से लेकर पुलिस ने इस पूरे मामले पर चूं तक नहीं करी, लेकिन सोशल मीडिया पर जब यह मामला आग की तरह फैला को फिर हर किसी अधिकारी ने इस पर एक्शन लेना शुरू किया, एक के बाद एक कई कड़ियां तो खुली लेकिन अफसूस बेटी बचाओ के नारे देने वाली बीजेपी सरकार बेटी को इंसाफ दिलाने में पीछे रह गई, उत्तराखंड के तमाम लोगों के साथ अब कांग्रेस के वरिष्ठ नेता राहुल गांधी  भी अंकिता को इंसाफ दिलाने के लिए सड़को पर बैनर लिए निकल पड़े हैं, भारत जोड़ो यात्रा के दौरान आज Rahul Gandhi ने दो मिनट का मौन धारण कर अंकिता को  श्रद्धांजलि अर्पित की, जिसकी तस्वीरें इंटरनेट पर सांझा की गई है.

यह भी पढ़ें: अंकिता भंडारी हत्याकांड पर धामी का एक्शन, आरोपी के भाई और पिता को BJP निकाल फेंका

इस मामले पर बीजेपी पर निशाना साधते हुए राहुल गांधी ने कहा कि 19 वर्षीय रिसेप्शनिस्ट की हत्या उत्तराखंड में महज इसलिए कर दी गई क्योंकि उसने प्रोस्टीट्युशन में शामिल होने से इनकार कर दिया था, इसी के साथ राहुल ने  वनंतरा रिजॉर्ट तोड़ने पर Uttarakhand की धामी सरकार पर भी सबूत मिटाने के आरोप लगाए हैं, साथ ही उन्होंने कहा कि ‘एक देश जो अपनी महिलाओं को द्वितीय श्रेणी का नागिरक मानता है, वह एक राष्ट्र के तौर पर असफल है, बीजेपी और आरएसएस की विचारधारा महिलाओं को वस्तु और दोयम दर्जे की नागरिक के रूप में देखती है, उत्तराखंड में जो हुआ वह बेहद शर्मनाक है.

उत्तराखंड फिल्म एवं संगीत जगत की सभी ख़बरों को विस्तार से देखने के लिए हिलीवुड न्यूज़ को यूट्यूब पर सब्सक्राइब करें।