बाल विवाह के दर्द को बयां करता करिश्मा का नया गीत रिलीज, समाज को दिखाया आईना।

0
344
बाल विवाह के दर्द को बयां करता करिश्मा का नया गीत रिलीज, समाज को दिखाया आईना।

छीन के उसका बचपन, रिश्तों की जंजीरों में बांध गए
जिसको खुद की ही पहचान ना थी, उसे अपरिचित के गले सजा गए
पढ़ने की उम्र में जो मलिन हो गई रसोई की राख में
टुटे हुए उसके अरमान, बस रहे गए ख्वाहिशों से भरी आंख में.

यह भी पढ़ें: अमित खरे का नया गीत हुआ रिलीज, साथ इंडियन लुक में नताशा ने ढाया कहर।

किसी भी राष्ट्र के निर्माण के लिए शिक्षा का सबसे बड़ा रोल रहता है, जिससे वहां की आर्थिक और सामाजिक विकास की कल्पना की जा सकती है, बालिका शिक्षा की बात करें तो हमारी सरकारें इसको लेकर समय समय पर कदम उठाती रहती है, क्योंकि वे अच्छे से जानते हैं की महिलाओं को शिक्षित किए बिना एक विकसित राष्ट्र नहीं बन सकता, हमारा भारत देश पुरुष प्रधान देश है, महिलाओं के मुताबिक यहां पुरुष ज्यादा संख्या में शिक्षित है, महिलाओं को कई जगहों पर आज भी शिक्षा का अधिकार वा आजादी न मिलने के कारण वो पीछे रह जाती हैं, पूरे भारत देश में इसके लिए अभियान चलाए जातें है, लोगों का समझाया जाता है कि शिक्षा का विरोध और बाल विवाह एक अपराध है, और ऐसी ही कोशिश उत्तराखंड के एक नए गीत में की गई है, जी हां चर्चित गायिका करिश्मा शाह का नया गीत अ आ इ ई लाडी तुम्हारी(Aa aa ee ee Laadi Tumhari) रिलीज हुआ है, जिसमें इसे समझाने का प्रयास किया गया है.

यह भी पढ़ें: देहरादून में फिल्म खैरी का दिन देखने को उमड़ी भीड़, पहले ही दिन हुआ हाउसफुल।

गीत को उत्तराखंड की बेहद चर्चित गायिका करिश्मा शाह(Karishma Shah) ने अपनी स्वरों से सजाया है, इसके लिरिक्स ओ.पी भारद्वाज ने लिखे हैं, व कंपोजिशन वर्क भी इन्होंने ही संभाला है, इसे म्यूजिक रूहान भारद्वाज(Ruhaan Bhardwaj) ने दिया है, मिक्सिंग मास्टरिंग विक्की जुयाल ने किया है, गीत के खूबसूरत लिरिक्स और करिश्मा शाह की गायिकी ने सबका दिल जीत लिया.

यह भी पढ़ें: IIFA अवॉर्ड में उत्तराखंड के जुबिन नौटियाल ने किया कमाल, खुशी से गदगद हुए सीएम धामी।

गीत के स्ट्रॉंग कॉन्सेप्ट ने सबका दिल जीता यह समाजिक मुद्दा है, जिसकों लेकर लगातार प्रचार-प्रसार किए जातें हैं उसके बावजूद भी कई लोग इस अधिकार को नहीं समझ पाएं हैं, जिसको देखते हुए इस गीत का पूरा कॉन्सेप्ट तैयार हुआ है, वीडियो में करिशमा शाह के साथ उनके पिता के भूमिका में ओ.पी. भारद्वाज दिखे तो वहीं इन्हीं के साथ वंदना भारद्वाज और ध्वनि दिलगुरी मुख्य किरदारों में नजर आए.

यह भी पढ़ें: देखिए कुमाऊँनी गीत तलघरा की धमाकेदार प्रस्तुति, नाचने पर हो जाएंगे मजबूर।

ओ.पी भारद्वाज(O.P BHARDWAJ ) द्वारा लिखित इस गीत में दिखाया गया है कि किस तरह से एक बेटी अपने माता पिता से बाल उम्र में ससुराल जाने को मना करती है, पढ़ने के उम्र में बंधन में ना बांधने की बात कहते हुए बोलती है कि मैं आप लोगों की प्यारी हूं मुझे खुद से दूर मत करो, गीत के द्वारा दर्शकों को एक अच्छा मैसेज देने की कोशिश की गई है, वहीं बता दें इस गीत को मोहित सिलस्वाल ने डायरेक्ट किया है वा प्रोड्यूस रूहान भारद्वाज द्वारा किया गया है.

यहां देखिए पूरा गीत: 

हिलीवुड जगत की सभी ख़बरें यूट्यूब पर देखने के लिए Hillywood  News चैनल को सब्सक्राइब करें।