ताउम्र रहना चाहते हैं फिट, तो आज ही फॉलो करें ये हेल्थ टिप्स।

0
27
ताउम्र रहना चाहते हैं फिट, तो आज ही फॉलो करें ये हेल्थ टिप्स।

अगर आप अपने दिन की शुरूआत ताजगी से करना चाहते हैं तो उसका एक मात्र उपाय है योगा, हेक्टिक भारे वर्क मोड के बीच ऑफिस वर्क और घर के सारे काम को संतुलित करना बेहद मुश्किल हो जाता है, खुद को एक्टिव रखने के लिए आप योगा को अपनी दिनचर्या में शामिल कर सकते हैं.

यह भी पढ़ें: गर्मियों में ऐसें करें अपनी स्किन की देखभाल, हमेशा ग्लो करेगी स्किन।

आज हर कोई अपने कामों में इतने व्यस्त हो चुके हैं, कि हम उस वजह से अपनी शारीरिक और मानसिक रूप से देखभाल नहीं कर पाते हैं जिस कारण हमें कई स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं से गुजरना पड़ता है, और इसका इलाज कोई दवाई, या फिर कोई ट्रीटमेंट नहीं बल्कि एक मात्र उपाय है योगा (Yoga), योगा करने से आप अपने दिन की एक ताजगी भरी शुरूआत कर सकते हैं, इसके अभ्यास से आप ऊर्जावान महसूस करेंगे, शारीरिक मजबूती और मानसिक संतुलन शरीर स्वास्थ्य रखने के लिए बेहद जरूरी होते हैं.

नीचे बताई गए सभी योगासन आपका दिन बना सकते हैं:

मेडिटोशन

सबसे पहले तो आप प्रतिदिन मेडिटोशन जरूर करें, यह आपके मन को शांत और आपका तवान भी दूर कर देगा, मेडिटेशन आपके भावनात्मक स्वास्थ्य को बढ़ाता है, भूलने की समस्या को कम करता है, कई समस्याओं का हल भी.

 

सुखासन

सुखासन बैठकर किया जाने वाला योग है, ये योग मन को शांति प्रदान करने वाला योग है, इस योग के दौरान नाक से सांस लेना और छोड़ना होता है, ये शरीर और दिमाग के बीच शांति और स्थिरता की भावना विकसित करता है, इसके अभ्यास से थकान, स्ट्रेस, टेंशन, एंग्जाइटी और डिप्रेशन को दूर करने में मदद मिलती है.

भुजंगासन

भुजंगासन को कोबरा पोस आसन भी कहा जाता है, इस आसन को करने से मेटाबलिज्म में सुधार होता है, इसके साथ ये वजन कम करने में भी मदद करता है.

उष्टासन

उष्टासन यानी उंट के समान मुद्रा, इस आसन का अभ्यास करते समय शरीर की उंट की जरह दिखता है,  इसलिए इसे उष्टासन कहते हैं, उष्टासन शरीर के अगले भाग को लचीला एवं मजबूत बनाता है, इस आसन से छाती फैलती है जिससे फेफड़ों की कार्यक्षमता में बढ़ोत्तरी होती है.

वृक्षासन

वृक्षासन संस्कृत भाषा का शब्द है, इसका शाब्दिक अर्थ होता है, वृक्ष यानी कि पेड़ जैसा आसन, इस आसन में योगी का शरीर पेड़ की स्थिति बनाता है और वैसी ही गंभीरता और विशालता को खुद में समाने की कोशिश करता है,वृक्षासन का नियमित अभ्यास आपके शरीर को नई चेतना और ऊर्जा हासिल करने में मदद करता है

उत्तराखंड संगीत एवं फिल्म जगत की सभी ख़बरों को विस्तार से देखने के लिए हिलीवुड न्यूज़ को सब्सक्राइब करें।