पलायन पर आधारित गढ़वाली फिल्म मेरू गौं रिलीज, सिनेमाघर में फूट-फूटकर रोए दर्शक।

0
पलायन पर आधारित गढ़वाली फिल्म मेरू गौं रिलीज, सिनेमाघर में फूट-फूटकर रोए दर्शक।

उत्तराखंड म्यूजिक इंडस्ट्री में यूं तो आए दिन नए गीतों की भरमार रहती है, लेकिन फिल्मों की बात करें तो बेहद ही गिनी चुनी फिल्में इंडस्ट्री से रिलीज होती है, और उनकी खासियत यह रहती है कि वे बेहद ही स्ट्रांग कॉन्सेप्ट बेस फिल्म रहती हैं, जो हर एक पहाड़ी दर्शक को झंझोर देती है, और इसी कड़ी में अब गंगोत्री फिल्म्स के बैनर तले नई फिल्म मेरू गौं रिलीज हुई है, जिसके द्वारा एक बेहद ही अच्छा मैसेज देने की कोशिश की गई है.

यह भी पढ़ें: मिस उत्तराखंड 2022 ऐश्वर्या बिष्ट ने राज्यपाल से की मुलाकात, अन्य रनर अप भी रहीं मौजूद।

गंगोत्री फिल्म्स के बैनर तले नई गढ़वाली फिल्म मेरू गौं(Meru Gaun) रिलीज हुई है, फिल्म बीते शनिवार व रविवार को नई दिल्ली के पंचकुईयां रोड स्थित गढ़वाल भवन में रिलीज की गई, मेरू गौं फिल्म को अनुज जोशी(Anuj Joshi) ने निर्देशित किया है व राकेश गौड़(Rakesh Gaur) इसके निर्माता हैं, फिल्म में आपको उत्तराखंड के जाने माने कलाकार मदन डुकलान,कालेश्वर,सुमन गौड़,विकास उनियाल,गीता उनियाल ,गिरीश पहाड़ी,गंभीर जयाड़ा,गोकुल पंवार,एवं बाल कलाकर के रूप में रुद्रांश उनियाल नजर आए,फिल्म में गढ़रत्न नरेंद्र सिंह नेगी, गायक जितेंद्र पंवार और मीना राणा ने अपना स्वर दिया है, और संजय कुमोला द्वारा संगीत से सजाया है.

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड का चोपता है मिनी स्विट्ज़रलैंड, घूमने का प्लान है तो पढ़िए ये खबर।

फिल्म में सभी मंझे हुए कलाकारों ने कमान संभाली है, जिसमें राम प्रसाद का किरदार स्वयं निर्देशक राकेश गौड़ ने निभाया, जिन्होंने अपने दमदार अभिनय से दर्शकों को अंत तक बनाए रखा, और रोने पर मजबूर कर दिया, उनकी पत्नि की भूमिका में सुमन गौड़ दिखीं, वह उनकी बहू के किरदार में गीता उनियाल(Geeta Uniyal) नजर आई जिनके अभिनय ने दर्शकों का दिल जीता, वहीं दूसरी ओर ढोल वाले औजी के किरदार में रमेश ठगरियाल दिखे, खबरी काका की भूमिका में रमेश रावत ने अपने मंझे हुए अभिनय से दर्शकों को गांव की याद दिलाई, प्रधान गंगा सिंह की भूमिका में मदन मोहन डुकलान व फौजी भाई की भूमिका में अजय विष्ट ने भूमिका को बखूबी निभाया है, गोपाल पंवार ने लाला व डॉक्टर सतीश कालेश्वरी, गंभीर ज्यडा ने भी ग्रामीण के अपने किरदारों के साथ पूरा न्याय किया है, चीनी की भूमिका में निशा भंडारी(Nisha Bhandari)और भाभी की भूमिका में गीता उनियाल ने अपने चुलबुले अभिनय से दर्शकों के मनोरंजन में कोई कमी नहीं आने दी.

यह भी पढ़ें: शादी के बंधन में बंधे उत्तराखंड के सिंगिंग स्टार संजय भंडारी, यहां देखें तस्वीरें।

उत्तराखंड म्यूजिक इंडस्ट्री में बेहद गिनी चुनी फिल्में रिलीज होती हैं, दर्शकों का गढ़वाली फिल्मों के प्रति रूझान ना होना इसका सबसे बढ़ा कारण है जिसकी वजह से फिल्म मेकर को अच्छा प्रॉफिट नहीं मिलता, लेकिन इसके बावजूद भी उनकी कोशिश रहती है कि वे उत्तराखंड वासियों को अपनी नई नई रचनाओं से जागरूक करते रहें, इस फिल्म की बात करें तो यह फिल्म पहाड़ के आम जन मानस के जीवन से जुड़ी वास्तविकता पर आधारित है, जिसमें उत्तराखंड में हो रहे पलायन और वहां की चरमराती स्वस्थ, शिक्षा व्यवस्था को दिखाया गया है.

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड में पुष्पा मूवी का क्रेज,बना दिया सुपरहिट सॉन्ग का गढ़वाली वर्जन।

दो साल के लंबे अंतराल के बाद आखिरकार पहाड़ की पीड़ा को दर्शाती फिल्म मेरू गौं रिलीज की गई जिसे देखने के लिए लोगों में अच्छा खासा उत्साह देखने को मिला, पलायन आज गांव की सबसे बड़ी समस्या बन चुकी है, लोग गांव में अच्छी व्यवस्थाएं ना होने के कारण पलायन कर रहे हैं, लेकिन कहीं ना कहीं वो आज भी आपनी पहाड़ की माटी को बेहद याद करते हैं, जो दर्द और पीड़ा हॉल में बैठे उन सभी लोगों के चेहरों पर झलकी, जिन्होंने सिनेमाघर में यह फिल्म देखी, इस फिल्म को देखकर कई लोग अपने गांव को याद करते हुए फूट-फूटकर रोने लगे.

ट्रेलर में इस फिल्म की झलकियां देख सकते हैं।

उत्तराखंड संगीत एवं फिल्म जगत की सभी ख़बरों को विस्तार से देखने के लिए हिलीवुड न्यूज़ को सब्सक्राइब करें।

Exit mobile version