ओवरथिंकिंग होने से बचें वरना हो सकती है मानसिक बीमारी, ऐसे मिलेगा निजात।

0
ओवरथिंकिंग होने से बचें वरना हो सकती है मानसिक बीमारी, ऐसे मिलेगा निजात।

एक विचार बेहद शक्तिशाली होती है, जो आपको खुश भी रख सकता है और परेशान भी, आपका बार बार नकारात्मक सोचना कई बार आपको ओवरथिंकिंग का शिकार बना देता है, चलिए हमारे इस पोस्ट में बात करेंगे कि किस तरह इस समस्या का सामना किया जा सकता है.  

यह भी पढ़ें: नमक आपकी सेहत के लिए हो सकता है नुकसानदायक, पढ़िए इसके साइड इफेक्ट्स।

कहते हैं बिना ऊतार-चढ़ाव के जीवन अधूरा है, अगर गम ना होता तो खुशी का एहसास ना होता और अगर कठिनाई ना होती तो मेहनत का अनुभव ना होता, ठीक यही कहानी है हमारे पूरे जीवन की, लेकिन समस्या यह है कि कुछ लोग अपनी इस समस्या से निकल जाते हैं तो कई अपनी इस समस्या को दिल से लगाकर दिनभर बस उसी के बारे सोचते हैं, जिसके परिणाम स्वरुप वो ओवरथिंकिंग(OverThinking) करते हैं और डिप्रेशन(Depression) का शिकार हो जाते हैं.

यह भी पढ़ें: गर्मियों में ऐसें करें अपनी स्किन की देखभाल, हमेशा ग्लो करेगी स्किन।

अक्सर कुछ लोगों में देखा जाता है कि अपनी समस्या का समाधान ढूंढने के बजाए, उसे अपने दिलों दिमाग में गलत तरह से बिठा लेते हैं जो धेरे-धेरे उनकी कमजोरी बनने लगती है, क्या आपको पता आज हमारे देश में आधे से ज्यादा लोग डिप्रेशन से अपनी जान गवा बैठते हैं, लेकिन क्या आपने कभी सोचा है ओवरथिंकिंग से होता क्या है,  क्या हमारी समस्या का समाधान?, बिलकुल भी नहीं, हम अपने एक विचार को वास्तविकता बना लेते हैं जिसकी वजह से हम परेशान रहते हैं, जिस कारण दिमाग में नकारात्मक विचार आने लगते हैं, जो कहीं ना कहीं हमे अंदर से खोखला और कमजोर करते हैं.

यह भी पढ़ें: जानिए गर्मियों में कैसा ड्रेस अप आपको रखेगा सुपर कूल, पसीने से मिलेगी राहत।

बचाव:

  • ओवरथिंकिंग का शिकार आज हर दूसरा इंसान है, जिंदगी के उतार-चढ़ाव, ढ़ेरों शिकायतें, और कई बारअनचाही जिम्मेरियां हमें ओवरथिंकिंग पर मजबूर करती हैं, अगर आप इससे बचना चाहते हैं तो सबसे पहले आपको नकारात्मक सोच को बदलना होगा,पॉजिटिव विचार रखें और उसकी स्थिरता बनाए रखें.
  • इससे बचाव हेतु सबसे पहले आपको जिस कारण आप परेशान हो उसमें खोने से पहले उसकी वजह और समाधान को सोचना होगा.
  • अगर आपका दिमाग किसी चीज को ओवरथिंकिंग कर रहा है तो आप अपने दिमाग को डाइवट करें, आप इसके लिए फोन, पेंटिंग या बाहर घूमने, लोगों के साथ ज्यादा से ज्यादा समय बिता कर डाइवट कर सकते हैं.
  • अकेलेपन से बचें, जितना आप अकेले गुमसुम रहेंगे वो उतना आप पर हावी होगा, जिससे आपको तनाव, घबराहट हो सकती है, इसके लिए सबसे बेस्ट यह है कि आप प्रतिदिन मेडिटेशन कीजिए और खुद को बिजी रखिए.
  • अपनी जिंदगी में हर पॉजिटिव और नेगेटिव चीजों को स्वीकार करना सीखें.

उत्तराखंड फिल्म एवं संगीत जगत की अन्य सभी ख़बरों को विस्तार से देखने के लिए हिलीवुड न्यूज़ को यूट्यूब पर सब्सक्राइब करें। 

Exit mobile version