पारंपरिक लोक वाद्ययंत्र विधा में ढोल वादन में अंजू ने किया प्रथम स्थान हासिल।

0
82
पारंपरिक लोक वाद्ययंत्र विधा में ढोल वादन में अंजू ने किया प्रथम स्थान हासिल।

राष्ट्रीय स्तर पर आयोजित कला उत्सव प्रतियोगिता 2021-22 में पूरे देश में उत्तराखंड की अंजू ने प्रथम स्थान हासिल किया. कक्षा 10वीं की छात्रा अंजू ने पारंपरिक लोक वाद्ययंत्र विधा में ढोल वादन किया. दमाऊ पर साधना शामिल रहीं. 

यह भी पढ़ें: पहली बार मांगलिक शैली में स्कूल प्रार्थना हे शारदे मां रिलीज, देखें वीडियो।

राष्ट्रीय स्तर पर कला उत्सव प्रतियोगिता वर्चुअल माध्यम से आयोजित की गई थी. जिसका परिणाम वर्चुअल माध्यम से 18 जनवरी को केंद्र सरकार के शिक्षा मंत्रालय की ओर से घोषित किया गया. सरकार द्वारा प्रतिवर्ष लोक कलाओं के संवर्धन एवं विकास के लिए माध्यमिक विद्यालयों के कक्षा नौंवी से 12 वीं तक के विद्यार्थियों के लिए विभिन्न विधाओं में कला उत्सव प्रतियोगिता का आयोजन किया जाता है. वहीं इस प्रतियोगिता में राजकीय बालिका इंटर कॉलेज हरिपुर कालसी देहरादून की अंजू कक्षा 10 वीं छात्रा ने उत्तराखंड से पारंपरिक लोक वादन में प्रथम स्थान हासिल किया है.

यह भी पढ़ें: माया का फेर गीत का टीजर आउट,दर्शकों को पूरे वीडियो गीत का इंतजार,पढ़ें रिपोर्ट।

पारंपरिक लोक वाद्ययंत्र विधा में अंजू ने ढोल वादन किया, हारूल, जैता, नाटी, रासो आदि धुन पर ढोल वादन में प्रस्तुति दी. दमाऊ पर साधना एवं रण सिंहा पर रिंकी ने सहभागिता निभाई. बता दें इससे पहले भी अंजू इस प्रतियोगिता का हिस्सा रह चुकीं हैं. इसके अलावा अंजू की उपलब्धि पर राज्य परियोजना निदेशक बंशीधर तिवारी, उपर राज्य परियोजना निदेशक डॉ. मुकुल कुमार सती द्वारा छात्रा एवं मार्गदर्शक शिक्षिका के साथ पूरे विद्यालय परिवार को बधाई दी, और उनके इस कार्य की सराहना की गई एवं छात्रा के उज्जवल भविष्य के लिए शुभकामनाएं दी. इस अवसर पर संयुक्त राज्य परियोजना निदेशक मंजू भारती, सहायक राज्य परियोजना निदेशक प्रद्युमन सिंह रावत समेत अन्य ने बधाई प्रेषित की.

यह भी पढे़ं: हिमाद्री फिल्म्स द्वारा किया जा रहा है उत्तराखंड के प्रमुख इष्टदेवों की भागवत कथा का लाइव प्रसारण,देखें।

उत्तराखंड फिल्म एवं संगीत जगत की सभी ख़बरों को विस्तार से देखने के लिए हिलीवुड न्यूज़ को यूट्यूब पर सब्सक्राइब करें।