सरकार की बढ़ी चुनौतियां, कोरोना को लेकर नई गाइडलाइन जारी।

0
118
सरकार की बढ़ी चुनौतियां, कोरोना को लेकर नई गाइडलाइन जारी।

उत्तराखंड में लोग अभी कोरोना की मार से उभरे भी नहीं थे कि कोरोना का नया वैरिएंट ओमिक्रॉन नई चुनौती के रूप में आ गया है, और इस खतरे को देखते हुए शासन की ओर से एक बार फिर कोविड को लेकर कड़े प्रतिबंध की शुरूआत हो गई है.

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड गौरव सम्मान का सीएम धामी ने किया ऐलान,गढ़रत्न नेगी समेत ये 5 नाम शामिल

पिछले 2 साल से दुनिया कोरोना की मार झेल रही है, और इसी बीच अब ओमिक्रॉन ने लोगों की चिंता बढ़ा दी है नीदरलैंड, इजरायल, डेनमार्क और ऑस्ट्रेलिया में इसके मामले तेजी से बढ़ रहे हैं। WHO ने इसे ‘वेरिएंट ऑफ कंसर्न’ की कैटेगरी में डाला है। कोरोना के नए वैरिएंट के सामने आने के बाद भारत सरकार भी सतर्क हो गई है..

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड की प्रियंका भट्ट की फिल्म में बॉलीवुड स्टार दिखाएंगे जलवे,पढ़ें रिपोर्ट।

डेल्टा के बाद कोरोना का ये नया वैरिएंट सबसे ज्यादा संक्रामक बताया जा रहा है, ओमिक्रॉन से बचाव और संक्रमण पर नियंत्रण के लिए एसओपी जारी की है, जिसमें सभी जिलाधिकारियों से राज्य के एयरपोर्ट, रेलवे स्टेशन, बार्डर चेक पोस्ट, पर्यटन स्थल और भीड़भाड़ वाले स्थानों पर रैंडम सैंपलिंग लिए जाएंगे.

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड संस्कृति को दर्शाता अपडु पैरवार पैरा गीत बन रहा है श्रोताओं की पंसद।

प्रदेश में कोरोना वायरस को लेकर यह गाइडलाइन जारी किए गए हैं. 

कोरोना प्रोटोकाल के तहत राज्य के सभी फ्रंट लाइन वर्कर का कोविड टेस्ट होगा, कोरोना संक्रमित मिलने पर चिकित्सा सुविधा प्रदान करने के निर्देश दिए गए हैं, 65 साल से अधिक उम्र के व्यक्तियों को आवश्यक और स्वास्थ्य संबंधी कारणों से ही घर से बाहर निकलने की इजाजत होगी उत्तराखंड में संक्रमण बढ़ने के बाद राज्य सरकार ने वायरस के लक्षण वाले सभी मरीजों की आरटीपीसीआर जांच अनिवार्य कर दी है और इसी के साथ एक बार फिर से राज्य के बॉर्डर, रेलवे स्टेशन, एयरपोर्ट और बाजारों में रेंडम कोविड जांच का भी निर्णय लिया गया है.

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड में मौसम ने ली करवट, अगले तीन दिन बारिश-बर्फबारी की संभावना।

उत्तराखंड फिल्म एवं संगीत जगत की सभी ख़बरों को विस्तार से देखने के लिए हिलीवुड न्यूज़ को यूट्यूब पर सब्सक्राइब करें।